Gonda News:प्रथम चरण में 14 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगी वैक्सीन

कोविड-19 के टीकाकरण की तैयारियों के सम्बन्ध में जिला टास्क फोर्स की बैठक सम्पन्न

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा। जनपद में कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण की तैयारियां तेज हो गई हैं। सोमवार को जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कोविड-19 के टीकाकरण की तैयारियों के परिप्रेक्ष्य में जिला टास्क फोर्स की बैठक आयोजित की गयी।

बैठक में बताया गया कि जनपद में कोरोना वैक्सीन के प्रथम चरण में स्वास्थ्य विभाग के 14 हजार कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा। टीकाकरण के लिए कर्मियों का समय निर्धारित किया जाएगा। इसको लेकर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में प्रतिकूल घटनाओं का प्रबन्धन करने के लिये ए0ई0एफ0आई0 कमेटी का गठन किया गया है जिसमें पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, सीएमओ, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी तथा जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक सहित अन्य अधिकारियों को शामिल किया गया है।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि यह वैक्सीन नई है जिसके लिये प्रत्येक टीकाकरण सत्र पर चिकित्साधिकारी ए0ई0एफ0आई0 मैनेजमेन्ट के लिये उपस्थित रहेगें एवं सत्र पर ए0ई0एफ0आई0 किट एवं एनाफाइलेक्सिस किट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहेगी। ब्लाक स्तर के प्रशिक्षण के लिए जिला स्तर से टीम जायेगी एवं जिला स्तरीय टीम प्रशिक्षण की गुणवत्ता, कोल्डचेन प्वाइंट का निरीक्षण एवं ब्लाकों में निरीक्षण कर कोविड-19 टीकाकरण हेतु सत्र स्थल के लिये स्थान का चयन करेगी। सीएमओ द्वारा कोल्डचेन एवं लॉजिस्टिक मैनेजमेन्ट के बारे में जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि जनपद का वैक्सीन भण्डार (डी0वी0एस0) कोविड-19 वैक्सीन हेतु पूर्ण रूप से तैयार कर लिया गया है एवं सभी ब्लाक के कोल्डचेन प्वाइंट को एक अलग से कक्ष, विद्युत की व्यवस्था हेतु निर्देशित कर दिया गया है। इसके साथ ही सभी ब्लाकों पर कोल्डचेन के सामने सीसीटीवी कैमरे भी लगवाने का प्रबन्ध किया जा रहा है। कोविड-19 टीकाकरण हेतु राज्य से 2 आई0एल0आर0, 07 डीप फ्रीजर बॉक्स प्राप्त हुये हैं।

बैठक में सीएमओ डा0 गौतम द्वारा ने बताया कि प्रत्येक सत्र स्थल पर टीकाकरण हेतु 05 सदस्य होगें जिसमें 01 सुरक्षागार्ड, 01 रिकार्ड की जांच करने वाले, 01 टीकाकरण हेतु, 01 मोबिलाइजर एवं 01 निगरानीकर्ता जो टीकाकरण के बाद 30 मिनट तक निगरानी कक्ष में रहकर ए0ई0एफ0आई0 का प्रबन्धन में सहयोग प्रदान करेगा। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि रिकार्ड जांच करने हेतु लगे व्यक्ति का चयन एवं उचित प्रशिक्षण होना चाहिये क्योंकि वेरिफिकेशन कोविड-19 पोर्टल के माध्यम से किया जायेगा। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी द्वारा टीकाकरण हेतु वैक्सीन को ब्लाकों पर पहुॅचाने के लिये सुरक्षा गार्ड के साथ वैक्सीन वैन का उपयोग किया जायेगा।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अजय कुमार गौतम, सिटी मजिस्ट्रेट वन्दना त्रिवेदी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक महिला अस्पताल डा0 ए0पी0 मिश्र, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा0 देवराज, जिला पंचायतराज अधिकारी सभाजीत पाण्डेय, बीएसए डा0 इन्द्रजीत प्रजापति, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार, डीएमसी यूनीसेफ शेषनाथ सिंह, एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *