Gonda Maskanwa News:पडोसी देश नेपाल आजादी के महा नायक महान सेनानी त्रिलोक चंद्र उर्फ पहाड़ी बाबा की मनाई गई 43 वींं पुण्य तिथि

नेपाल के महान सेनानी ने अंग्रेजो से भारत को आजाद कराने में निभाईं थी मत्वपूर्ण भूमिका

संंजय यादव

मसकनवांं ,गोण्डा। पड़ोसी देश नेपाल के निवासी महान  स्वतंत्रता सेनानी ब्रह्मचारी  त्रिलोक चंद्र उर्फ पहाड़ी बाबाकी 43 वीं पुण्यतिथि हर्षोल्लास के साथ मनाई गई महान सेनानी का आजादी में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। 

बताते चलें महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी त्रिलोकचंद्र ब्रह्मचारी उर्फ पहाड़ी बाबा की 43वी पुण्यतिथि मसकनवा में उनके समाधि स्थल पर मनाई गयी। तिरंगा ध्वजारोहण किया गया।

मुख्य अतिथि भगवान घनश्याम महराज की जन्मस्थली स्वामीनारयण  मन्दिर छपिया के कोठरी ब्रम्हचारी भक्ति स्वामी विशिष्ट अतिथि चन्द्र नारायण शुक्ला सेेेेवा निवृत्ति प्रवक्ता , पूर्व प्रमुख छपिया शैलेन्द्र  पाण्डेय,  गन्ना समिति चेयरमैन सुरेश शुक्ला, जिला पंचायत सदस्य अभिमन्यु पटेल, राकेश वर्मा, सरदार मनमीत सिंह श्याम बाबू कमल, रविन्द्र मिश्र ने समाधि स्थल पर चादर चढ़ाकर पुष्प अर्पित किया गया।


 कार्यक्रम की अध्यक्षता पंडित चन्द्र नारायण शुक्ला और संचालन पूरन चन्द्र गुप्त गुप्ता ने किया। मुख्य अतिथि ब्रम्हचारी कोठारी भक्ति स्वामी  ने कहा कि पहाड़ी बाबा सच्चे संत और देश भक्त थे। हम सभी को उनके बताये हुए रास्ते पर चल कर देश व समाज को नयी दिशा देनी चाहिये । यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

चेयर मैन सुरेश शुक्ला ने कहा की स्वतंत्रता आंदोलन में उनके योगदान को भुलाया नही जा सकता है। उन्होने पुण्यतिथि के अवसर पर उपस्थित लोगों से बाजार गॉवो में साफ-सफाई रखने की भी बात कही। इस अवसर पर मनीष श्रीवास्तव, विक्की मिश्रा, डॉ बी एन शर्मा, पंडित हनुमानदीन बेधड़क, मो. हसन अनन्त शुक्ला, राम तेज, रघुभूषण तिवारी आदि ने संबोधित किया। संत बहादुर सिंह ,सुधांशु बसंत,संजीव कुमार, रवीन्द्र मिश्रा, ओम प्रकाश,अनघ, सिंह ,जुगरावती, विद्यावती, शिक्षा , रिचा गुप्ता, रक्षा गुप्ता, श्रेया गुप्ता,  संत बहादुर सिंंह, राम कुुुमार गुप्ता, साजन भगत, हितेश भगत, हरिदर्शन स्वामी, संजय यादव, अर्जुन पांडेय, जितेन्द्र शुक्ला, अखिलेश पांडेय, योगेंद्र गुप्ता, छोटेबाबू, सत्यदेव शुक्ला, श्याम बरन पांडेय, राम सुभावन वर्मा,सुनील गौड़, सहजाद, मैराज,आशीष सिंह, दीपक वर्मा रहे,कार्य क्रम के समाप्ति के उपरांंत प्रसाद वितरण किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *