Lakhimpur kheri news:आक्सीजन की समस्या से जूझ रहे जनपद वासी,एक महीने में बंद आक्सीजन फैक्ट्री को लिक्विड आक्सीजन नही उपलब्ध करा पाई सरकार

जगसड में पर्याप्त सिलिंडर: ड्रग निरीक्षक

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर के प्राइवेट आक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था करने वाली पंजीकृत दो कंपनियों को धक्का लगा है। मोहिनी एंड कम्पनी, सिंह ट्रेडर्स लखीमपुर खीरी बहराइच, लखनऊ, शाहजहांपुर से सिलिंडर लेते थे। इन जिलों से जवाब मिला है कि सरकार के निर्देश हैं कि पहले उत्पादक कम्पनी गृह जनपद को पूर्ति करेगी फिर वाह्य जनपदों को। सरकारी सेक्टर में आक्सीजन सिलिंडर पूर्ति का जिम्मा ड्रग निरीक्षक सुनील रावत के पास है। उनका कहना कि जिले के एकमात्र कोविड अस्पताल जगसड में प्रयाप्त आक्सीजन सिलिंडर है। जिला अस्पताल इमरजेंसी में भी आक्सीजन की दिक्कत नही है। रावत भी बाराबंकी आदि जनपदों से सिलिंडर लेते हैं। अगर प्राइवेट फर्मों को दिक्कत हुई है तो वही दिक्कत जिला प्रशासन को भी हो सकती है। तब बड़ा संकट होगा। रावत ने बताया कि खीरी रोड पर एबी गैस इंडस्ट्रीज है। यह प्लांट औद्योगिक गैस पूर्ति के लिए लगा था। अब केंद्र सरकार ने स्पष्ट कहा है कि ऐसी इंडस्ट्रीज में मरीजो के लिए आक्सीजन बने। एक महीने से चर्चा है कि लिक्विड आक्सीजन का टैंकर आने लगे तो जिले के तड़पते मरीजो को ऑक्सीजन की दिक्कत नही होगी। जिला प्रशासन, सत्ता रूढ़ दल के जिले की एमपी और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, प्रदेश के महामंत्री, जिले के 8 विधायक, 2 सांसद, 3 एमएलसी अभी तक इस मामले को मूर्तरूप नही दे पाए हैं। यह दुर्भाग्य पूर्ण है। नागरिक जय सिंह, दीपक पुरी, लव गुप्ता, मोहन बाजपेयी आदि काफी मेहनत करके कुछ सिलिंडर उपलब्ध करा रहे है। जिले में कोविड 19 के अभी 4000 मरीज है। 250 बेड का एक एल 2 कोविड अस्पताल है। 250 बेड है। मरीज बढेगें तो दिक्कत होगी। सूत्रों से पता चला है कि दो कोविड अस्पताल शीघ्र जिले में खुलने जा रहे हैं। लोग चाहते है इसमें एक पलिया में खुले। दबाव मोहम्मदी व गोला के लिए भी है। देखना है कि जिला प्रशासन क्या निर्णय लेता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *