Gonda News:आयुक्त ने नगर के हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों व एकीकृत कोविड कमान्ड कन्ट्रोल रूम का किया औचक निरीक्षण

साफ-सफाई व्यवस्था ठीक न पाए जाने पर आयुक्त ने कठोर कार्यवाही की दी चेतावनी

आयुक्त ने चाौबीस घन्टे में साफ-सफाई व्यवस्था सुनिश्चित कराने के दिए निर्देश

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा। नवागत मण्डलायुक्त  एस0वी0एस0 रंगाराव ने कार्यभार ग्रहण करनेे के बाद औचक निरीक्षण प्रारम्भ कर दिए हैं। गुरूवार को आयुक्त ने कोविड-19 को लेकर जिला प्रशासन द्वारा किए गए प्रबन्धों को देखने के लिए नगर क्षेत्र में कोरोना मरीज मिलने के उपरान्त बनाए गए कन्टेनमेन्ट जोन एरिया महारानीगंज, दयानन्द नगर चौराहा व चौक क्षेत्र तथा कलेक्ट्रेट में संचालित एकीकृत कमान्ड कोविड कन्ट्रोेल रूम का औचक निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त साफ-सफाई की व्यवस्था से असंतुष्ट दिखे तथा नगर पालिका के अधिकारियों को चौबीस घन्टे की मोहलत देते हुए चेतावनी दी है कि सभी कन्टेनमेन्ट जोन में समुचित सफाई के साथ ही ब्लीचिंग व चूने का छिड़काव कराने के साथ ही सैनीटाइजेशन कराया जाय। इसके अलावा पूरे नगर क्षेत्र में साफ-सफाई सुनिश्चित कराई जाय अन्यथा जिम्मेदार अधिकारी को निश्चित ही दण्डित किया जाएगा।

औचक निरीक्षण के दौरान आयुक्त सबसे पहले मोहल्ला महारानीगंज बड़गांव हाॅट स्पाॅट पहुंचे। वहां पर गन्दगी देखकर आयुक्त ने नगर पालिका के अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई तथा निर्देश दिए कि 24 जुलाई की सुबह तक सभी कन्टेनमेन्ट जोन एरिया में समुचित साफ-सफाई सुनिश्चित हो जाए। इसके बाद आयुक्त दयानन्द नगर तथा चैक बाजार में बनाए गए कन्टेनमेन्ट एरिया का निरीक्षण करने पहुंचे। वहां भी चूना आदि का छिड़काव न मिलने पर आयुक्त ने नाराजगी व्यक्त की तथा सिटी मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए कि वे रोजाना सुबह 7 बजे तक सभी कन्टेनमेन्ट एरिया का निरीक्षण कर साफ-सफाई देख लिया करें। 

हाॅट स्पाॅट क्षेेत्रों का निरीक्षण करने के उपरान्त आयुक्त सीधे कलेक्ट्रेट में संचालित एकीकृत कोविड-19 कमान्ड कन्ट्रोल रूम पहुंचे।उन्होंने सर्विलान्स टीम प्रभारी एसीएमओ डा0 देवराज को निर्देश दिए कि कोरोना मरीज मिलने के बाद तत्काल उसकी कान्टैक्ट ट्रैसिंग शुरू की जाय तथा घर-घर जाकर सैम्पलिंग करने वाली सर्विलान्स टीम निर्धारित कार्ययोजना के अनुरूप उसका क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कोविड कमान्ड कन्ट्रोल रूम, एम्बुलेन्स, पूल व्यवस्था, सफाईकर्मियों द्वारा की गई सफाई की क्रास चेकिंग की निगरानी के साथ ही साथ पूरी टीम भावना के साथ अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करें ।

आयुक्त ने यह भी निर्देश दिए है कि कोरोना मरीज मिलने के बाद विगत एक हफ्ते के दरम्यान सम्बन्धित मरीज से मिलने वाले लोग स्वयं अपनी जांच कराएं।  मास्क लगाने के लिए पे्ररित किया जाय तथा मास्क न लगाने वाले तथा इधर-उधर थूकने वाले लोगों पर जुर्माना भी लगाया जाय। 

निरीक्षण के दौरान एडीएम राकेश सिंह, सीआरओ आर0आर0 प्रजापति, सिटी मजिस्ट्रेट वन्दना त्रिवेदी, एसडीएम कुलदीप सिंह, सर्विलान्स टीम प्रभारी डा0 देवराज व डा0 फर्रूख सगीर, एनएमए विनोद कुुमार गुुप्ता, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित गुप्ता सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *