Gonda News:आयुक्त ने विभिन्न विभागों की मण्डलीय समीक्षा में अधिकारियों को प्रगति लाने के दिए निर्देश

निष्क्रिय दुग्ध समितियों को शीघ्र सक्रिय कराएं- आयुक्त

अभियान चलाकर दिसम्बर के अन्त तक गौवंशों का टीकाकरण कराएं अधिकारी

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा।आयुक्त देवीपाटन मण्डल एसवीएस रंगाराव ने आयुक्त सभागार में लघु सिंचाई एवं भूगर्भ जल, सिंचाई एवं जल संसाधन,समाज कल्याण, अल्प संख्यक कल्याण, पिछड़ा वर्ग महिला कल्याण, बाल विकास विभाग, पशुधन, जल निगम, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण, वन, दुग्ध विकास, उद्योग एवं सहकारिता विभाग की धनराशि अवमुक्त होने के सापेक्ष अब तक हुई प्रगति की गहन समीक्षा की। उन्होंने नहरो में टेल तक पानी पहुंचाने के कार्यक्रम के अन्तर्गत सिल्ट सफाई के कार्य हेतु जिला स्तरीय मद में मात्र जनपद गोण्डा के लिए 68.05 लाख धनराशि अवमुक्त होने के दृष्टिगत निर्देशित किया कि इसके लिए अन्य जनपद भी शासन को उनके स्तर से पत्र प्रेषित कराकर धनावंटन कराएं।


प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाअभियान (पीएम-कुसुम) कृषकों को सोलर, फोटो बोलिटक ऐरीगेशन पम्प की स्थापना हेतु राज्य सेक्टर से प्राप्त अनुदान के अन्तर्गत कृषकों का चयन ‘‘पहले ड्राफ्ट लाओ-पहले सोलर पम्प पाओ’’ के आधार पर किया जाता है। इस योजना के अन्तर्गत समूह आधारित सिंचाई प्रणाली अथवा पानी उपयोगकर्ता संघ एवं समुदाय भी पात्र होते हैं, लेकिन प्राथमिकता लघु एवं सीमान्त कृषकों को दी जानी है। सिंचाई के उद्देश्य से पानी के उपयोग को कम करने के लिए उन किसानों को प्राथमिकता दी जाएगी जो सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली का प्रयोग कर रहे हैं। उपलब्ध जल स्तर हेतु 22 फिट की गहराई तक के लिए 02 एच0पी0 सोलर पम्प तथा 200 फीट तक गहराई हेतु 03 एच0पी0 सोलर पम्प अथवा 05 एच0पी0 सोलर पम्प उपयुक्त होते हैं। मण्डल में कुल तीन संस्थाओं को सोलर पम्प स्थापित करने क लिए अधिकृत किया गया है। मण्डल में विभिन्न क्षमता के 335 के सापेक्ष 231 बैंक ड्राफ्ट प्राप्त हो चुके हैं। किन्तु संस्थाओं द्वारा सोलर पम्प आपूर्ति में असमर्थता व्यक्त करने का उल्लेख करने पर आयुक्त ने निर्देशित किया है कि इसके लिए उनकी उच्च स्तर पर वार्ता कराने के साथ पत्र भी प्रेषित कराया जाय।


निराश्रित गोवंश संरक्षित करने के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक के दौरान आयुक्त ने अवशेष निराश्रित गोवंशों में पशुओं का भी टीकाकरण कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सड़कों के किराने मृतक मवेशियों के सम्बन्ध में निर्देशित किया है कि सम्बन्धित ग्राम पंचायतें उनका निस्तारण कराना सुनिश्चित करें ताकि वायु प्रदूषण की स्थिति न आने पाए। उन्होंने टीकाकरण व टैगिंग कार्य पशुओं की अधिकाधिक संख्या को वरीयता देते हुए गांव का रोस्टर बनाकर इसी माह में टीकाकरण शत-प्रतिशत कराने के निर्देश दिए हैं।


आयुक्त ने मण्डल में निष्क्रिय पड़ी दुग्ध समितियों को पुुनर्गठित किए जाने की समीक्षा के दौरान कहा कि निष्क्रिय दुग्ध समितियों को, पशु मित्रों व कृषि मित्रों की सहायता से सक्रिय किए जाने की कार्यवाही की जाय। बैठक में बताया गया कि गत माह नवम्बर में 05 समितियों को सक्रिय किया गया है।


आयुक्त ने स्वरोजगार योजनाओं में अपेक्षित प्रगति न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे डायरी बनाकर बैंक प्रबन्धकों से वार्ता कर ऋण वितरण की कार्यवाही कराएं और बैंक प्रबन्धकों से उनकी तथा सम्बन्धित जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी से भी वार्ता कराएं और उसका उल्लेख अपनी डायरी में करें। इसमें उन्होंने तीन दिन के भीतर अपेक्षित प्रगति लाने के कड़े निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही एक जनपद-एक उत्पाद योजना में भी अपेक्षित प्रगति लाने के निर्देश दिए हैं।


बैठक में आयुक्त ने शादी अनुदान योजना के तहत मण्डल में अब तक प्राप्त 1357 आवेदन पत्रों जिसमें से मात्र 98 निस्तारित हुए हैं तथा 1259 शेष हैं, के क्रम में कोविड-19 के प्रोटोकाल का निर्देशानुसार अनुपालन करते हुए शीघ्रातिशीघ्र निस्तारण तथा जनपद गोण्डा, बहराइच एवं श्रावस्ती में विशेष ध्यान देकर अपेक्षित कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने वृद्धावस्था पेंशन योजना के अन्तर्गत सत्यापन के परिणाम स्वरूप पात्र लाभार्थियों को प्रथम आवक-प्रथम पावक के आधार पर माह दिसम्बर तक आधार सीडिंग का कार्य पूर्ण कराए जाने के  निर्देश दिए हैं। उन्होंने मनरेगा, पंचातीराज एवं आईसीडीएस विभाग के कन्वर्जेन्स के माध्यम से आंगनबाड़ी केन्द्रों का भवन निर्माण जो अभी अपूर्ण रह गए हैं, उन्हें शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिए हैं।
इस अवसर पर संयुक्त विकास आयुक्त वीरेन्द्र प्रसाद पाण्डेय, संयुक्त निदेशक कृषि पीके गुप्ता, उपनिदेशक समाज कल्याण जितेन्द्र सिंह, उपनिदेशक सांख्यिकी अर्थ एवं संख्या विभाग आरके मिश्रा, अधीक्षण अभियन्ता ड्रेनेज खण्ड जल निगम तथा प्रभागीय वनाधिकारी सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *