Gonda News:कोविड 19 समीक्षा बैठक में डीएम ने फटकार लगाते जमूरा व निक्कमा बनाया”अपर मुख्य चिकित्सा ने दिया इस्तीफा “स्वास्थय विभाग मे मचा हडकम्प

बी.एल .त्रिपाठी
गोण्डा। कोविड समीक्षा बैठक में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी गोण्डा ए.पी .सिंह को जिला अधिकारी ने डांट पिलाते हुए जमूरा निक्कमा कहते हुए लगायी फटकार आहत अपर चिकित्सा अधिकारी मानसिक आहत बताते हुए महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थय सेवायें उत्तर प्रदेश सहित विभिन्न अधिकारियों को भेजा इस्तीफा स्वास्थय विभाग में हडकम्प मच गया है।

बताते चले कि मंगलवार को सायं छः बजे कोविड 19 की समीक्षा बैठक में जिला अधिकारी का पारा समीक्षा बैठक में इतना चढ गया कि अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी गोण्डा को भरी मिटिंग में अप शब्दो की बौछार करते हुए हुए उनके सेवा पर ही सवाल खड़े कर दिए।
जिला अधिकारी मार्कण्डेय शाही को अपर चिकित्सा अपनी बात या उनके द्वारा कही बात का जवाब देने की कोशिश करते कि उन्हे जमूरा निक्कमा जैसे शब्दो से भी सम्बोधित करते हुए कहा कि क्यो न तुम्हरा डिमोशन कर दिया जाय।

आहात अपर चिकित्सा अधिकारी ए.पी .सिंह ने इस्तीफे की पेशकश करते हुए कहा कि राजकीय चिकित्सक के रूप में 22 वर्षो की सेवा में बेदाग एवं उत्कृष्ट रही है।

6 माह पूर्व अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी के पद पर हुई है। कोविड संक्रमण से बचाव एवं टीकाकरण से आच्छादित किये जाने हेतु अधिकतम प्रयास कर रहा है। जनपद गोण्डा समस्त स्वास्थय मानकों में 73 वें स्थान से 30 वें स्थान तक लाने में सफल रहा है।
जिला अधिकारी मार्कण्डेय शाही द्वारा इनाम के बजाय अप शब्दो के प्रयोग से मै अपर चिकित्सा अधिकारी गोण्डा के रूप में मानसिक आहात होने के कारण अपनी सेवाएं देने में सक्षम नही है अतः अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश करते हुए स्वास्थय मंत्री उत्तर प्रदेश शासन,महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थय सेवायें उत्तर प्रदेश,अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं उत्तर प्रदेश,अध्यक्ष प्रान्तीय चिकित्सा संघ उत्तर प्रदेश,अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थय परिवार कल्याण देवी पाटन मण्डल गोण्डा,मुख्य चिकित्सा अधिकारी गोण्डा,जिला अधिकारी गोण्डा को भेजा है। इस्तीफा की खबर आते ही स्वास्थय विभाग में हडकम्प मच गया है।

एसीएमओ के इस्तीफे के बाद जिले के सीएचसी अधीक्षकों ने डीएम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। बुधवार देर रात यहां बुलाई गई आपात बैठक में 16 सीएचसी अधीक्षकों ने अपने-अपने पद से सामूहिक इस्तीफा दे दिया। सभी ने जिला अधिकारी पर चिकित्सकों के प्रति अपमानजनक व्यवहार और टिप्पणी का आरोप लगाते हुए यह कदम उठाया। अधीक्षकों ने अपने पद से सामूहिक इस्तीफे का पत्र सीएमओ डॉ. आरएस केसरी को भेजा है। बताया जा रहा है कि चिकित्सकों के समर्थन में गुरुवार को कुछ स्वास्थ्य संगठन भी आ सकते हैं। सीएमओ ने सामूहिक इस्तीफे का पत्र मिलने की पुष्टि की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *