Hardoi News:अखिलेश यादव का बड़ा बयान, बोले- जिन्ना के साथी थे सरदार पटेल, नेहरू और गांधी

हरदोई :अखिलेश यादव ने कहा सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर बड़ा बयान दिया है। अखिलेश ने कहा कि सरदार पटेल, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था में पढ़ कर बैरिस्टर बन कर आए थे. एक ही जगह पर पढ़ाई लिखाई की. उन्होंने आजादी दिलाई। अगर उन्हें किसी भी तरह का संघर्ष करना पड़ा होगा तो वह पीछे नहीं हटे। आज जो देश की बात कर रहे हैं वह हमें और आपको जाति और धर्म में बांटने की बात कर रहे हैं।

हरदोई के माधौगंज में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव  ने बीजेपी पर निशाना साधा है।अखिलेश ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के दो ही काम हैं।एक समाजवादी पार्टी के कामों के नाम बदलना और दूसरा शौचालय बनवाना। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी लौह पुरुष सरदार पटेल को आज याद तो कर रही है अगर वास्तव में उनके बताए रास्ते पर चलना है जो तीन कृषि बिल भाजपा ने जो पास किए हैं उनको आज ही वापस ले लें.।यही पटेल को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

 

हरदोई में विजय रथ लेकर पहुंचे समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दावा करती है कि सरदार पटेल के रास्ते पर चल रहे हैं, लेकिन सबसे ज्यादा किसान दुखी हैं। किसानों की आय कम हुई है. महंगाई बढ़ गई है। बेरोजगारी बढ़ी है। जिस तरह से सरकार चल रही है सभी वर्ग अपमानित हो रहे हैं।

 

उन्होंने कहा कानून व्यवस्था पूरी तरीके से ध्वस्त है। फैजाबाद में एक बेटी ने आत्महत्या कर ली आरोप पुलिस पर लगा। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस ऐसी घटनाओं में शामिल हो जाएगी तो न्याय देश को कौन देगा। अखिलेश यादव ने कहा कि सरदार पटेल जमीन को पहचानते थे और जमीन को देखकर फैसले लेते थे, इसीलिए आयरन मैन के नाम से जाने जाते थे।

 

अखिलेश ने कहा कि सरदार पटेल, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था में पढ़ कर बैरिस्टर बन कर आए थे, एक ही जगह पर पढ़ाई लिखाई की। वह बैरिस्टर बने और उन्होंने आजादी दिलाई। अगर उन्हें किसी भी तरह का संघर्ष करना पड़ा होगा तो वह पीछे नहीं हटे। एक विचारधारा जिसने पाबंदी लगाई, अगर किसी ने पाबंदी लगाई थी लौह पुरुष सरदार पटेल ने पाबंदी लगाने का काम किया था। आज जो देश की बात कर रहे हैं वह हमें और आपको जाति और धर्म में बांटने की बात कर रहे हैं। अगर हम जाति और धर्म में बंट जाएंगे तो हमारे देश क्या होगा। दुनिया में हमारे देश की सबसे बड़ी पहचान यही है।

 

बीजेपी ने जताया बयान पर ऐतराज

 

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के बयान पर भाजपा जिला अध्यक्ष सौरभ मिश्रा ने कहा कि सरदार पटेल के साथ जिन्ना का नाम लेना और उनका साथी बताना सरदार पटेल का एक तरह से अपमान करना है। एक महान देशभक्त के साथ देश को तोड़ने वाले का नाम लेना ओछी राजनीति है, अखिलेश यादव को अपने इस बयान पर माफी मांगनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *