Gonda News:अपहृत मेडिकल छात्र पुलिस व एसटीएफ के सयुक्त प्रयास से बरामद, फिरौती मांगने वाला डाक्टर मास्टरमाइंड 03 साथियों सहित मुठभेड़ मे गिरफ्तार

एसटीएफ व पुलिस की सयुक्त टीम को शासन से दो लाख रूपये पुरस्कार देने की मुख्यमंत्री ने की घोषणा
राम नरायन जायसवाल
गोण्डा। जिले के एस0सी0पी0एम0 आयुर्वेदिक कालेज मे बी.ए.एम.एस की पढ़ाई कर रहे जनपद बहराइच के थाना पयागपुर कालोनी काशी जोत निवासी छात्र को अपहरण कर उनके परिजनों से 70 लाख की फिरौती मांगने वाले मास्टर को  अथक प्रयासों के बाद एसटीएफ व गोण्डा की संयुक्त पुलिस टीम ने पुलिस मुठभेड़ के दौरान उसके 02 अन्य साथियों के साथ गिरफ्तार करके छात्र गौरव हालदार को सही सलामत बरामद किया है। अपहृत बेटे को पाकर पिता निखिल हालदार व उनके परिजनों ने पुलिस टीम का हार्दिक आभार व्यक्त किया है ,वही मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के द्वारा बरामद  करने वाली टीम को शासन से  दो लाख रूपये  का पुरस्कार देने की घोषणा की है।
बताते चलें कि दिनांक 18 जनवरी 2021 को निखिल हालदार पुत्र नीलरतन हालदार नि0 सत्संगनगर कालोनी काशी जोत थाना पयागपुर जनपद बहराइच के पुत्र गौरव हालदार, जो कि एस0सी0पी0एम0 कालेज गोण्डा मे बी0ए0एम0एस0 की शिक्षा ग्रहण कर रहा था। जिसका अपहरण करके 70 लाख की फिरौती मांगी गई थी। जिसके सम्बन्ध में थाना को0 नगर गोण्डा मे अभियोग भी पंजीकृत किया गया था। इस सनीसनीखेज घटना का पर्दाफाश करने हेतु गोण्डा पुलिस, एस0टी0एफ0 व विभिन्न इकाईयों की टीमो को लगाया गया था। जिसमें गोण्डा पुलिस व एस0टी0एफ0 की संयुक्त अभियान में साक्ष्य संकलन के दौरान यह ज्ञात हुआ कि उक्त अपहृत गौरव हालदार दिल्ली एन0सी0आर0 क्षेत्र में मौजूद है, इस सूचना को एस0टी0एफ0 गौतमबुद्धनगर के साथ साझा करते हुए गोण्डा पुलिस की टीमें संयुक्त रूप से अपहृत की सकुशल बरामदगी व अपहरण कर्ताओं की गिरफ्तारी हेतु भ्रमणशील हुई।
सूचना तंत्र से यह ज्ञात हुआ कि फिरौती के रूपये लेने के लिए अपहरणकर्ता दिल्ली  एन0सी0आर0 से लखनऊ की तरफ रवाना हुए है। तदोपरान्त गोण्डा पुलिस व एस0टी0एफ0 की संयुक्त आॅपरेशन के तहत थाना एक्सप्रेस-वे पर उनके डिजायर कार को रोकने का प्रयास किया गया, जिस पर बदमाशों द्वारा पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नियत से फायर किया गया। पुलिस द्वारा अपने आपको बचाते हुए मुठभेड के दौरान 03 बदमाशों को पकड़ लिया गया तथा गाड़ी की तलाशी लेने पर गाड़ी की पिछली सीट के नीचे अपहृत गौरव हालदार को सकुशल बरामद किया गया। पूछताछ पर अभियुक्त डाॅ0 अभिषेक सिंह ने बताया कि उसने वर्ष 2013-14 में राजीव गांधी यूनिवर्सिटी आफ हेल्थ सांइस बंगलौर से बी०ए०एम०एस० पास किया है। उसकी बुआ की शादी पयागपुर, जनपद बहराइच मे हुई है, जिनका लड़का रोहित गौरव हालदार का पुराना परिचित है। इसी प्रकार मोहित सिंह भी परिचित है जिसका नवाबगंज गोण्डा में पुराना घर है जहाँ उसका आना-जाना है। मोहित सिंह करोल बाग में एक कपडे की दुकान पर काम कर था। दोनों एक दूसरे से परिचित थे। नीतेश, मुख्य रूप से बैंक फ्रांड इन्शोरेन्स फ्रांड करने का काम करता है और इससे जुड़े कई लडके हैं जो कॉल करके इन्श्योरेन्स, होम लोन आदि के नाम पर ठगी करते है और नितेश ने ही इस पूरे अपहरण काण्ड में फेक आईडी पर सिम उपलब्ध कराये थे। वर्तमान में वह (डाॅ0 अभिषेक सिह) नजफगढ, नांगला रोड पर स्थित रालो अस्पताल में काम करता है और इसी अस्पताल में डाॅ0 प्रीति मेहरा, जो बीएएमएस है वो भी काम करती है। इस पूरे अपहरण काण्ड का मास्टर माइंड डा0 अभिषेक सिंह है, जिसने रोहित के माध्यम से टारगेट का चुनाव किया था और फिर डाॅ0 प्रीति के माध्यम से अपहृत गौरव हालदार को फोन कराना प्रारम्भ कर दिया तथा दो-तीन दिन में ही गौरव हालदार को गोण्डा मिलने के लिए राजी कर लिया और  डाॅ0 अभिषेक सिंह अपनी गाड़ी संख्या यू0पी0-16-ए0एच0 6767 स्विफ्ट डिजायर मे रोहित, मोहित सिंह, नीतेश व डा० प्रीति मेहरा के साथ दिनांक 18 जनवरी की सुबह लखनऊ पहुँच गये वहाँ पर रोहित उतरकर बस से गोरखपुर की तरफ चला गया और शेष लोग छात्र गौरव को अपहरण करने के लिए गोण्डा पहुँच गये और फिर एक राहगीर से फोन लेकर डाॅ0 प्रीति मेहरा ने गौरव हालदार को बुलाकर जबरदस्ती अपनी गाडी में बिठा लिया,  डाॅ0 अभिषेक सिंह ने अपहृत गौरव हालदार को नशे का इंजेक्शन लगाया और उसे दिल्ली ले आये। इसके पश्चात अपहृत गौरव हालदार को दिल्ली में डाॅ0 अभिषेक सिंह के फ्लैट पर रखा गया और समय- समय पर अपहृत गौरव हालदार को नशे का इजेक्शन देते रहे।
इस दौरान 70 लाख रूपय की फिरौती मांगने का काम नीतेश एव रोहित द्वारा किया जाने लगा था। इन्हें क्या पता था कि ये शीघ्र ही पुलिस के हत्थे चढ़ जाएंगे और आखिरकार गौतमबुद्ध नगर की एसटीएफ व गोण्डा पुलिस की संयुक्त टीम ने
डाॅ0 अभिषेक सिंह पुत्र राजेश सिंह नि0 अचलपुर थाना वजीरगंज जनपद गोण्डा हालपता फ्लैट नं0 310 ग्लोरिया अपार्टमेन्ट बक्करवाला डी0डी0ए0 फ्लैट दिल्ली, नीतेश पुत्र विनोद बिहारी नि0 बालपुर थाना निहारगंज धौलपुर राजस्थान।व मोहित सिंह पुत्र शिव मूरत सिंह नि0 ग्राम परौली थाना करनैलगंज जनपद गोण्डा को दबोच ही लिया, जिनके कब्जे से अपहृत छात्र के साथ ही एक पिस्टल 32 बोर, 04 जिन्दा कारतूस व स्विफ्ट डिजायर बरामद किया गया, इसके साथ ही इनके 02 अन्य साथ जो इस घटना में शामिल थे उन्हें संतकबीर नगर से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार अभियुक्तों को थाना एक्सप्रेस-व गौतमबुद्ध नगर में दाखिल कर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है। अपहृत बच्चे को पाकर परिजनो ने पुलिस व एसटीएफ टीम का आभार व्यक्त किया है।
तीनो अपहरणकर्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *