Lakhimpur Kheri News:एफपीओ की गठन, क्षेत्र विशिष्ट कृषि उत्पादों के अनुरूप क्लस्टर चयन पर हुआ मंथन

कृषि उत्पादन आयुक्त ने एफ़पीओ डायरेक्टर्स को दिया प्रशिक्षण

किसानों के लिए एफपीओ बनेगा संजीविनी : एपीसी

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी । उप्र के कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक टंडन ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कृषि उत्पादक संगठनों (एफ.पी.ओ.) के डायरेक्टर्स को विभिन्न क्रियाकलापों हेतु प्रशिक्षित किया। अपर मुख्य सचिव (कृषि) डॉ. देवेश चतुर्वेदी समेत कृषि/उद्यान/मत्स्य आदि विभागों के निदेशकों ने विभागीय योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए योजनाओं को एपीओ से लिंकेज पर जोर दिया।

कृषि उत्पादन आयुक्त ने एफ़पीओ की आवश्यकता व प्रासंगिकता की जानकारी देते हुए कहा कि क्षेत्र विशिष्ट कृषि उत्पादों को न केवल उनका वाजिब मूल्य व बाजार मिलेगा बल्कि उनके जीवन स्तर में भी आमूलचूल परिवर्तन आएगा। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए एफपीओ संजीवनी का काम करेगा।

सचिव, कृषि व कृषि कल्याण भारत सरकार संजय अग्रवाल ने यूपी, गुजरात समेत अन्य राज्यों में एफ़पीओ के क्रियाकलापों हेतु जनपद स्तर पर गठित समितियों के उत्तरदायित्व व अधिकारों के प्रति अवगत कराया। उन्होंने कृषि उत्पादक संगठन के गठन, क्षेत्र विशिष्ट कृषि उत्पादों के अनुरूप कलस्टर चयन पर बल दिया। इस वर्चुअल कार्यक्रम में जिले के प्रत्येक विकासखंड में कम से कम दो-दो कृषि उत्पादक संगठनों के सृजन एवं क्रियान्वयन के निर्देश दिए गए।

इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में डीएम डॉ अरविंद कुमार चौरसिया, सीडीओ अरविंद कुमार उप कृषि निदेशक डॉ योगेश प्रताप सिंह, जिला कृषि अधिकारी सत्येंद्र प्रताप सिंह, जिला उद्यान अधिकारी दिग्विजय कुमार, सहायक निदेशक (मत्स्य) संजय यादव, डीडीएम नाबार्ड सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *