Gonda News:डीएम व सीडीओ के औचक निरीक्षणों से मचा हड़कम्प “डीएम” ने गैरहाजिर कर्मियों से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के आदेश

डीएम व सीडीओ के औचक निरीक्षणों से मचा हड़कम्प

डीएम ने गैरहाजिर कर्मियों से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के आदेश

राम नरायन जायसवाल की रिपोर्ट

गोण्डा।डीएम मार्कण्डेय शाही व सीडीओ शशांक त्रिपाठी के ताबड़तोड़ औचक निरीक्षणों से सरकारी महकमे में हड़कम्प मचा रहा। डीएम ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नगर सिविल लाइन, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बरियारपुरवा, बाल विकास परियोजना कार्यालय नगर क्षेत्र बहराइच रोड, ब्लाक झंझरी कार्यालय तथा बाल विकास परियोजना कार्यालय झंझरी का औचक निरीक्षण किया वहीं सीडीओ ने पीएचसी धनावा, पीएचसी बरगदी कोट, पीएचसी कंजेमऊ तथा पीएचसी चकरौत का औचक निरीक्षण किया।


प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सिविल लाइन नगर क्षेत्र में निरीक्षण के दौरान फार्मासिस्ट मुकेश कुमार गुप्ता, एएनएम गोल्डी सिंह, सुधा देवी व रीता देवी गैर हाजिर मिलीं। डीएम ने अनुपस्थित सभी कर्मचारियों से स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश सीएमओ को दिए हैं।
पीएचसी बरियारपुरवा में निरीक्षण के दौरान रंजू यादव एएनएम व बब्बन प्रसाद स्टाफ नर्स गैर हाजिर मिले। डीएम ने अनुपस्थित दोनों कर्मियों से जवाब तलब करने व उनकी कारगुजारी प्रस्तुत करने के आदेश सीएमओ को दिए हैं। अभिलेखों के निरीक्षण में पाया गया कि एएनसी का कार्य ठीक से नहीं किया जा रहा हैं। इस पर उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिए कि वे स्वयं इसकी मानीटरिंग करें तथा सम्बन्धित अधिकारी की जवाबदेही तय करें।

पीएचसी बरियारपुरवा का निरीक्षण करने के उपरान्त डीएम बाल विकास परियोजना कार्यालय नगर क्षेत्र बहराइच रोड का निरीक्षण किया।विकासखण्ड झंझरी कार्यालय में जिलाधिकारी के निरीक्षण के दौरान ग्राम पंचायत अधिकारी अंशुमान गैरहाजिर मिले। डीएम ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करने के आदेश दिए हैं। वहीं वित्तीय मामलों में संतोषजनक जवाब न दे पाने पर लेखाकार को चेतावनी जारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने वहां पर निर्देशित किया कि सभी खण्ड विकास अधिकारी अपना सीयूजी फोन स्वयं इस्तेमाल करें।


इससे पहले डीएम ने सीएचसी वजीरगंज, विकासखण्ड वजीरगंज, सीएचसी नवाबगंज, ब्लाक नवाबगंज का भी औचक निरीक्षण किया जिसमें कई कर्मचारी व डाक्टर गैरहाजिर मिले, जिनके खिलाफ कार्यवाही हेतु सीएमओ को निर्देशित किया गया है।

 

सीडीओ के निरीक्षण में गैरहाजिर मिले दो चिकित्सक,रोका वेतन

वहीं सीडीओ शशांक त्रिपाठी ने पीएचसी धनावा, पीएचसी बरगदी कोट, पीएचसी कंजेमऊ तथा पीएचसी चकरौत का औचक निरीक्षण किया जिसमें पीएचसी बरगदी कोट व कंजेमऊ में डॉक्टर गैरहाजिर मिले। सीडीओ ने डॉक्टरों का वेतन रोकने के आदेश सीएमओ को दिए हैं। वहीं अस्पताल परिसर में गंदगी मिलने, ईडीएल अपडेट न मिलने, ओपीडी रजिस्टर व स्टॉक मेंटेन मिलने पर पीएचसी धनावा, बरगदी कोट तथा कंजेमऊ के फार्मासिस्ट का वेतन अग्रिम ओदशों तक रोका गया है। पीएचसी चकरौत में ज्ञात हुआ कि पीएचसी तक पहुंचने के लिए रोड के साथ ही विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था नहीं है। सीडीओ ने सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *