Lakhimpur Kheri News:जलशक्ति मंत्री डा. महेन्द्र सिंह ने लखीमपुर-खीरी में बाढ़ कार्यो का किया निरीक्षण

बाढ़ परियोजनाओं के कार्य आसन्न मानसून से पूर्व पूर्ण करने के दिए निर्देश

*ड्रेजिंग व चैनेलाइजेशन कार्य भी समय से पूर्ण करने के दिए निर्देश*

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी। जल शक्ति मंत्री डा. महेन्द्र सिंह ने बाढ़ एवं कटाव निरोधक कार्यो की जमीनी हकीकत परखने हेतु स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने जनपद खीरी के तहत पलिया पुल के डाउन स्ट्रीम में शारदा नदी के दायें किनारे पर स्थित ढकिया खुर्द, ढकिया कला व शाहपुर ग्राम समूह की सुरक्षा हेतु कटाव निरोधक कार्यो की अतिरिक्त लम्बाई की परियोजना कार्यो का निरीक्षण किया मंत्री ने जनपद में कराये जा रहे बाढ़ एवं कटान से सम्बन्धित निर्माणाधीन परियोजनाओ के कार्य 15 जून 2021 तक प्रत्येक दशा मे मानकीकृत एवं गुणवत्तारक ढ़ग से पूर्ण कराने हेतु निर्देशित किया। जनपद खीरी बाढ़ की दृष्टि से सर्वाधिक संवेदनशील जनपद है। जनपद में प्रवाहित होने वाली प्रमुख नदिया शारदा, घाघरा, मोहाना, कौड़ियाला व सुहेली आदि का उद्गम नेपाल व उत्तराखण्ड से होता है। उक्त नदियों मे भारी सिल्ट लोड व तीव्र वेग होने के कारण मेन्डरिंग की प्रवृत्ति अत्याधिक रहती है, जिससे बाढ़ एवं कटान का भारी खतरा रहता है। वर्ष 2020 बाढ़ खण्ड शारदानगर लखीमपुर खीरी द्वारा जनपद लखीमपुर खीरी में कुल 06 अद्द बाढ़ परियोजनाए लागत रू0 40.55 करोड. के कार्य कराकर 20 ग्रामों, 38,100 आबादी व 1341 हेक्टेअर कृषि योग्य भूमि को बाढ़ एवं कटान से सुरक्षा प्रदान की गई है। वर्ष 2021 मे जनपद लखीमपुर में कुल 10 अदद बाढ़ परियोजनाएं लागत रू0 53.00 करोड़ के कार्य कराकर 37 ग्रामों, 70,300 आबादी व 2080 हेक्टेअर कृषि योग्य भूमि को बाढ़ एवं कटान से सुरक्षा प्रदान की जायेगी। खण्ड के अन्तर्गत जनपद सीतापुर में कुल 02 अद्द बाढ़ परियोजनाएं लागत रू0 17.59 करोड़ के कार्य कराकर 06 ग्रामों, 10000 आबादी व 711 हेक्टेअर कृषि योग्य भूमि को बाढ़ एवं कटान से सुरक्षा प्रदान की जायेगी। उपरोक्त के अतिरिक्त जनपद लखीमपुर खीरी में बाढ़ व कटान की दृष्टि से अन्य संवेदनशील व अतिसंवेदनशील स्थलों पर जहां बाढ एवं कटान से खतरा उत्पन्न होने की सम्भावना है को भी मंत्री ने मानसून से पूर्व मानकीकृत व गुणवत्तापरक कार्य कराकर सुरक्षित कर लिया जाय। उन्होंने बताया कि कोविड महामारी के बावजूद सिंचाई विभाग द्वारा बाढ़ की तैयारियों के समस्त कार्य समयानुसार कराये जा रहे है। वर्ष 2020-21 में जनपद खीरी के अन्तर्गत 08 बाढ़ परियोजनाएं संचालित थीं। जिनमें से 01 परियोजनाओं के कार्य बाढ़ काल 2020 के प्रारम्भ होने से पूर्व माह जून तक पूर्ण कर लिए गये थे तथा शेष परियोजनाओं के कार्य सुरक्षित स्तर तक इस प्रकार सम्पादित कराये गये कि उनका लाभ जनता को प्राप्त हो सके। निरीक्षण के दौरान सांसद अजय मिश्र टेनी, विधायक शशांक वर्मा, डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह, एसपी विजय दुल, सिंचाई विभाग के प्रमुख अभियन्ता (परि0 एवं नियो0) अशोक कुमार सिंह, मुख्य अभियन्ता (शारदा) बरेली सूरज पाल सिंह, प्रबन्ध निदेशक उत्तर प्रदेश प्रोजेक्ट कारपोरेशन लिमिटेड नवीन कपूर, अधिशासी अभियन्ता राजीव कुमार, परियोजना प्रबन्धक पंकज वर्मा आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *