Gonda Colonelganj News:घाघरा पर बने बाँध की मरम्मत को लेकर सिंचाई विभाग के अधिकारियों को क्षेत्रीय विधायक ने किया अगाह

जून माह से शुरू होता है घाघरा का जलस्तर बढना तीन महीने तक बना रहता है खतरा पहाड़ी नदियों के पानी छोडने को लेकर

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज,गोण्डा । घाघरा में आने वाली बाढ़ और बरसात के पूर्व क्षेत्र को बाढ़ से मुक्त बनाए रखने के लिए बांध की मरम्मत एवं मजबूत करने का कार्य पूर्ण कराया जाना चाहिए। जिससे जिले में आने वाली बाढ़ को रोका जा सके और कोरोना की महामारी के साथ क्षेत्रवासियों को बाढ़ की दुश्वारियों का सामना न करना पड़े।

करनैलगंज के भाजपा विधायक कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया ने कहा कि इस संबंध में सिंचाई विभाग के अधिकारियों से वार्ता की जा रही है कि जून के महीने में घाघरा का जलस्तर बढ़ना शुरू हो जाता है और 3 माह तक लगातार घाघरा में विभिन्न पहाड़ी क्षेत्रों से बरसात का पानी नदी में छोड़ा जाता है। जिससे कई बार बांध कटने की घटनाएं हो चुकी हैं और बांध कटने के बाद महीनों तक क्षेत्रवासियों को बाढ़ की विभीषिका को झेलना पड़ा है। ऐसी स्थिति में उन्होंने सिंचाई विभाग, बाढ़ खंड सहित अन्य अधिकारियों से कहा है कि घाघरा में बाढ़ का पानी आने एवं बरसात की शुरुआत होने के पूर्व बांध को पूरी तरह सुरक्षित कर लिया जाए। पूरे क्षेत्र ही नहीं बल्कि जिले में बांध को सुरक्षित रखने के लिए उनका सर्वे करवाकर जहां बांध मरम्मत योग्य हो वहां उसकी मरम्मत कराई जाए। उसके साथ ही बांध को मजबूत बनाने के साथ साथ ग्राम नकहरा, प्रतापपुर, परसावल, कमियार, बेहटा के पास बांध को मजबूत करने व मरम्मत कार्य को तत्काल प्रभाव से पूर्ण करा कर सुरक्षित किया जाए। उन्होंने इस संबंध में सिंचाई विभाग के अधिकारियों से कहा है कि वे आवश्यकतानुसार कार्य कराएं और कार्य में तेजी लाकर शीघ्र अति शीघ्र बांध को सुरक्षित करें। जिससे कोरोना जैसी महामारी का प्रकोप झेल रहे क्षेत्रवासियों को बाढ़ के संकट का सामना ना करना पड़े। विधायक ने कहा कि बांध को पूरी तरह सुरक्षित रखना सिंचाई विभाग व बाढ़ खंड के अधिकारियों की जिम्मेदारी है। कहीं भी बाढ़ से बांध को खतरा न हो यह सुनिश्चित करना आवश्यक है। इस संबंध में उन्होंने सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव से भी वार्ता कर बांध की सुरक्षा के बारे में चर्चा करने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *