Gonda News:विधायक सदर ने 101 पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को निःशुल्क साइकिल का किया वितरण

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा। उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण योर्ड द्वारा संचालित ‘‘संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के अन्तर्गत कार्यालय उपश्रमायुक्त देवीपाटन मण्डल गोण्डा में निर्माण श्रमिकों के पुत्र-पुत्रियों के हाईस्कूल तथा इण्टरमीडियट  को उत्तीर्ण करने के उपरान्त अगली कक्षा में प्रवेश करने पर साइकिल वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। मा0 विधायक सदर  प्रतीक भूषण शरण सिंह ने बतौर मुख्य अतिथि लाभार्थियों को साइकिल का वितरण किया।

मुख्य अतिथि  विधायक सदर ने कहा कि सरकार की मंशा मजदूरों को शीघ्र और पारदर्शी रूप से योजनाओं का हितलाभ दिलाये जाने की है। श्रमिकबन्धु श्रम कार्यालय में अपना आवेदन-पत्र जमाकर योजनाओं का लाभ लें। उन्होंने कहा कि बोर्ड की संचालित योजना ‘‘संत रविदास शिक्षा सहायता योजना’’ के अंतर्गत साइकिल वितरण हेतु श्रम विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम पर प्रसन्नता व्यक्त की गयी और कहा  कि ऐसे कार्यक्रमों से समाज में लोगों के मध्य मेल-मिलाप की भावना को बल मिलेगा तथा मिशन शक्ति के अंतर्गत पुत्रियों को अपने अधिकार एवं समाज में पुत्र व पुत्री में समानता तथा पुत्रियों को उनके अधिकारों के संबंध में जागरूकता मिलेगी। इा अवसर पर उन्होंने 101 निर्माण श्रमिकों के पुत्र-पुत्रियों को साइकिल का वितरण करते हुए निर्माण श्रमिकों के पुत्र-पुत्रियों को प्राप्त साइकिलों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में उपश्रमायुक्त देवीपाटन मण्डल रचना केसरवानी द्वारा निर्माण श्रमिकों के लिए लागू योजनाएं एवं पंजीकरण तथा हितलाभ प्राप्ति सम्बन्धी प्रक्रिया के विषय में विस्तार से अवगत कराया गया तथा श्रमिकों से अपील की गयी कि अपना पंजीकरण कराकर विभिन्न योजनाओं का हितलाभ प्राप्त करें। श्रम विभाग की योजनाओं के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि जनपद गोण्डा के 9572 निर्माण श्रमिकों को विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत रू0-6.5 करोड़ के हितलाभ वितरण संबंधी स्वीकृति-पत्र वितरित किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्रम प्रवर्तन अधिकारी योगेश दीक्षित गोण्डा ने किया।

इस अवसर पर सूर्यभान, पूनम खरे, लाल चन्द्र विश्वकर्मा, राम नारायन, अनुराग सक्सेना, अष्टभुजा गिरी, अजय कुमार सिंह, नूर मोहम्मद एवं चन्द्रेश यादव आदि समस्त कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *