Gonda Nawabganj News: मनुष्य यदि संसार का आसरा ,सहारा, भरोसा छोड़ प्रभु की शरण मेंं लग जाय तो भजत कृपा करीहैं रघुराई -: मिथिला शरण

पंं.श्याम त्रिपाठी

नवाबगंज(गोंडा)।कटरा-शिवदयालगंज स्थित कटरा कुटी पीठ पर चल रहे नौ दिवसीय हमनुमान जयंती महोत्सव के पांचवे दिन कथावाचक पंडित मिथिला शरण पांडे ने उपस्थित भक्तों को बताया कि कोई भी भक्त यदि संसार का आसरा ,सहारा, भरोसा छोड़ दे और भगवान के हाथों में अपनी जिंदगी की बागडोर सौंप दे हर दिन उसके लिए जिंदगी का स्वर्णिम दिन होगा ।

भगवान की व्यवस्था के अनुसार जो भक्त हमेशा हर हाल में प्रसन्न रहता है उस पर परमात्मा की कृपा निरंतर बरसती है भक्तों को चाहिए हर सुख -दुख में प्रसन्न रहने का निरंतर अभ्यास करें,
किष्किंधा कांड की चर्चा करते हुए कथा व्यास ने कहा की जिस समय श्री हनुमान जी ने सुग्रीव का भेंट श्रीराम जी से कराया तो सुग्रीव के मन में भगवान के प्रति संदेह का भाव आ गया और राम जी के साथ साथ चलते हुए सुग्रीव जी ने राम जी को यह बताने की कोशिश की प्रभु बालि बहुत बलवान है बहुत सावधानी से यहां निपटने की आवश्यकता है तुरंत राम जी के मन में यह भाव आया कि राम जी के साथ चलने वाला व्यक्ति और उसको शक्ति बाली में दिखाई पड़ रही है इसका मतलब है की सुग्रीव का विश्वास पूरी तरह राम पर नहीं है ।

इस अवसर पर कथा के मुख्य यजमान राम मणि पांडे ,सुशीला पांडे , चिंतामणि तिवारी,श्रवण मौर्या ,अरुण सिंह ,विनोद गुप्ता , गगन गुप्ता ,पंडित परशुराम शर्मा , दिवाकर मौर्य,श्याम किशोर सिंह दयासागर तिवारी विनोद सिंह सहित बड़ी संख्या में लोगो ने कथा श्रवण कर रहे भक्तों की सेवा में लगे रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *