Gonda News:बसपा निष्काषित नेताओ के सहानुभूति में उमड़ा कार्यकर्ताओं का हुजूम सैकड़ो पार्टी पदाधिकारियों ने बसपा से दिया इस्तीफा

बसपा से निष्काषित नेताओ का छलका दर्द पार्टी विरोधी नही भाजपा के नीतियों कृषि बिल  का विरोध करने पर हुई कार्यवाही-मसूद


पार्टी में मौजूद दलालों के षड्यंत्र के हुए हैं शिकार-रमेश गौतम

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा । मंगलवार को बसपा हाईकमान द्वारा आश्चर्यचकित करने वाले फैसले से जहां जनपद की राजनीति में भूचाल आया है वहीं जिले में बसपा के सक्रिय व कद्दावर नेताओ के निष्कासन से इसका खामियाजा बहुजन पार्टी को भुगतने के आसार भी दिखने लगे हैं।

दरअसल बसपा के पूर्व विधायक व दो  मंडलो के  कॉर्डिनेटर रमेश गौतम एवम पूर्व में बसपा से लोकसभा प्रत्यासी रह चुके मसूद आलम खान को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का हवाला देते हुए उन्हें पार्टी से निष्काषित कर दिया गया है।

यह खबर लोगों में फैलते ही बसपा कार्यकर्ताओ व इन नेताओं के समर्थकों में हलचल मच गई।किसी न किसी रूप में बसपा की मौजूदगी जनपद में बनाये रखने की जिम्मेदारी इन दोनों कद्दावर नेताओ ने संभाल रखी थी।लेकिन बसपा हाईकमान द्वारा लिए गए फैसले को देखते हुए इनके समर्थकों में काफी मायूसी सी छा गयी है।जिसका परिणाम ये रहा कि बुधवार को भारी संख्या में समर्थकों ने पहुंचकर अपनी सहानुभुति प्रकट की।वहीं फैसले से आहत दोनो नेताओ ने बताया कि निःसंदेह पार्टी में मौजूद कुछ षडयंत्रकारियों के शिकार हुए हैं।बहुजन समाज पार्टी के खिलाफ हमने कभी भी कोई कार्य नही किया।बसपा हाईकमान का जो फैसला आया वो स्वीकार है।अब हमारे समर्थकों व कार्यकर्ताओं का जो फैसला होगा वही निर्णय लिया जाएगा।

सैंकड़ो की तादाद में पदाधिकारियों ने पार्टी से दिया त्यागपत्र


जनपद में बसपा के अस्तित्व को बरकरार रखने वाले इन दोनों नेताओं के निष्काषन से आहत पार्टी के सैंकड़ो पदाधिकारियों ने लिखित रूप से त्यागपत्र दे दिया है।त्यागपत्र देने वाले पदाधिकारियों का मानना है कि 1989 से लगातार 30 वर्षों से रमेश गौतम व 14 वर्षों से मसूद आलम खां  पार्टी व पिछड़े दलितों,गरीबो, किसानों के हित मे निरंतर संघर्ष करते आ रहे हैं।इन दोनों नेताओं के पार्टी से बाहर जाने पर बसपा का अस्तित्व जनपद से खत्म हो जाएगा।

बसपा हाईकमान द्वारा इनका निष्कासन किसानों के समर्थन में उपवास पर बैठने के कारण किया गया है।जिसके कारण सैकड़ो पदाधिकारियों ने त्यागपत्र दे दिया।जिनमे प्रमुख रूप से देवीपाटन मंडल सेक्टर प्रभारी लालचंद गौतम,मंडल सेक्टर प्रभारी खुसिराम पासवान,जिला उपाध्यक्ष मो इरफान खान, जिला महासचिव अयोध्या चौहान,डॉ यार मोहम्मद, मुस्लिम समाज संयोजक मनकापुर सोनू शाह,ब्राह्मण समाज संयोजक मनकापुर अवधेश मिश्रा,सेक्टर अध्यक्ष कटरा धनलाल,सेक्टर प्रभारी कटरा रामदास,विधानसभा अध्यक्ष करनैलगंज रमेश गौतम सहित सैकड़ो लोग शामिल रहे।

रमेश गौतम ने कार्यकर्ताओं के बुलायी गयी बैठक में कहा बहिन कुमारी मायावती ने टयूट कर किसानों के समर्थन की बात कही थी जिसको लेकर  मसूद आलम खां के द्वारा किसानों के समर्थन में उपवास पर बैठने के उपरांत हमारे द्वारा पहुंच कर उपवास का समर्थन करने पर निष्काषित करने की कार्यवाही की गयी है जिसमें जिला अध्यक्ष भाजपा से मिलकर एवं पार्टी के क्वाडिनेटर घनश्याम खरवार की साजिश है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *