Lakhimpur- Kheri-News-रानी लक्ष्मीबाई कन्या इण्टर कॉलेज के विद्यार्थियों ने किया कमाल बहुत ही कम लागत में बना दी लाखो की मशीन

एन.के.मिश्रा

गोला गोकर्णनाथ, लखीमपुर  खीरी। रानी लक्ष्मीबाई कन्या इंटर कॉलेज शहाबुद्दीनपुर के विद्यार्थियों ने अपनी बुद्धिमत्ता का परिचय देते हुए कोरोना महामारी से लड़ने हेतु आई.आई. टी. कानपुर के नरेन्द्र सिंह (पीएचडी) की देखरेख में ऑटोमेटिक फुल बॉडी सैनिटाइजिंग टनल तथा ऑटोमेटिक हैंड सैनिटाइजिंग मशीन का निर्माण किया। इन मशीनों का उद्घाटन उपजिलाधिकारी गोला अखिलेश यादव  तथा खंड शिक्षा अधिकारी  कुम्भी  राधेश्याम वर्मा द्वारा किया गया। अखिलेश यादव ने विद्यालय एवं निर्माण में लगी टीम की भूरि भूरि प्रशंसा की तथा उन्होंने इस वैश्विक महामारी के संकट से निपटने के लिए विद्यालय के इस कदम की सराहना की। दोनों मशीने पूर्णतयाः स्वचलित हैं, जिन्हें बिना छुए आप शरीर व हाथों को सैनिटाइज कर सकते हैं। मशीनों में प्रयोग की गई तकनीकि से उपजिलाधिकारी इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने स्वयं की ऑफिस के लिए ये मशीन खरीदने की इच्छा जताई और बोले मजूदा समय के इस संकट से निपटने के लिए ऐसी मशीनों की जरूरत सरकारी दफ्तरों, अस्पतालों, विद्यालयों, दुकानों आदि पर अत्यधिक है। उन्होंने विद्यालय से आह्वान किया कि उनकी टीम इस वैश्विक महामारी से लड़ने हेतु आगे आये तथा ऐसी और भी मशीनो का निर्माण करे जिससे कोरोना महामारी से निजात पाई जा सके। विद्यालय प्रधानाचार्य सर्वेश वर्मा तथा प्रबंधक संजय वर्मा एवं संदीप वर्मा ने भी उपजिलाधिकारी से वादा किया कि हम इस महामारी से लड़ने में प्रशासन के साथ कदम से कदम मिलाकर चलेंगे तथा यह लाखों की मशीन इच्छुक व्यक्तियों, संस्थाओं को भी बहुत ही कम दाम पर उपलब्ध कराएंगे। इन स्वचलित मशीनों को लगवाने के इच्छुक व्यक्ति व संस्थाएं विद्यालय से संपर्क कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त नरेन्द्र ने जानकारी दी कि इस वक्त ऐसी ही एक और मशीन का निर्माण विद्यालय द्वारा कराया जा रहा है जिसके माध्यम से मोबाइल, पर्स, चश्मा, घड़ी इत्यादि बहुत ही आसानी से सैनिटाइज किया जा सकता है। कार्यक्रम में आये सभी सदस्यों को मास्क वितरित किये गए। विद्यालय द्वारा निर्मित मशीनों के उद्घाटन कार्यक्रम में शिवानी भार्गव, लवली यादव, जसप्रीत कौर छात्राओ सहित उप प्रधानाचार्य उदय वीर व सहायक अध्यापक रामू, सतेन्द्र, भूपेंद्र, रेशू वर्मा आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *