Gonda News:मेडिकल छात्र के अपहरण के तीन दिन बाद भी अपहृताओ तक पहुंचने में पुलिस नाकाम, सात टीमे गठित,पयागपुर बीजेपी विधायक एसपी से मिले

अपहृताओ के द्वारा फिरौती की रकम की डेड लाइन आज

यागपुर भाजपा विधायक मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव से बात करने के उपरांत गोण्डा एसपी के आवास पहुंच छात्र की बरामदगी को लेकर घंटे भर चली लम्बी वार्ता
कालेज में सुरक्षा की दृष्टि से लगे मुख्य गेट का सीसीटीवी कमरा बन्द हास्टल में कैमरे ही नही,आगन्तुक रजिस्टर में आने जाने वालो की कोई  एंट्री नहीं
राम नरायन जायसवाल
गोण्डा। एससीपीएम मेडिकल कॉलेज में अध्ययनरत बीएएमएस प्रथम वर्ष छात्र के अपहरण के तीन दिन बीत जाने के बावजूद  अपहृताओ तक पुलिस पहुंचने में नाकाम दिख रही है,अपहृताओ ने जिस नम्बर से फिरौती की रकम मांगी थी वह नम्बर किसी मिठाई वाले का बताया जा रहा है,पूरे मामले की मानिटरिंग पुलिस मुख्यालय लखनऊ  से की जा रही सात टीमे गठित होने के बावजूद मण्डल के चारों जिले की पुलिस को इस समबन्ध में लगातार समपर्क किया जा रहा है पयागपुर के बीजेपी विधायक सहित कैसरगंज सांसद प्रतिनिधि सायं एसपी से घंटों वार्ता कर छात्र के बरामदगी की बात कही है।
गोण्डा शहर कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत लखनऊ रोड हारीपुर स्थित एससीपीएम कालेज के बीएएमएस प्रथम वर्ष का छात्र गौरव हालदार 21 पयागपुर  काशीपुर बंगाली कालोनी जनपद  बहराइच हास्टल में रहकर शिक्षा ग्रहण कर रहा था।सोमवार को दिन के लगभग चार बजे हास्टल से  यह अपने दोस्तों को बता कर निकला था कि किसी से मिलने जा रहा है लेकिन पूरी रात नही वापस आया।मंगलवार को छात्र  गौरव हालदार के चिकित्सक पिता निखिल हालदार के मोबाइल पर दोपहर अपहृताओ का फोन आया कि 70 लाख रूपये 22 तक पहुँचाने की बात कही थी। फोन मिलने के बाद पीडित पिता तत्काल गोण्डा एसपी शैलेश कुमार पाण्डेय सहित आईजी डाक्टर राकेश सिंह को जानकारी दी।सूचना मिलने के बाद सारे पुलिस अधिकारी परिजनो के साथ पहुंच कालेज में छान बीन शुरू की लेकिन घंटों की छानबीन के बाद कालेज परिसर से अपहृताओ का कोई सुराग हाथ नही लग सका।
लगे कैसे इस नामी गिरामी कालेज में सुरक्षा की दृष्टि से मुख्य गेट पर लगा सीसीटीवी कैमरा बन्द मिला इतना ही नही गेट पर सुरक्षा को लेकर आगन्तुक रजिस्टर पर आने जाने वालो की कोई  एंट्री नहीं मिली सबसे चौकाने वाला मामला यह सामने आया कि हास्टल में 110 छात्र वहा सीसीटीवी कैमरे ही नही लगे है। अपहृत छात्र रूम नम्बर 51 में रहता था जिसमें तीन छात्र रहते  एक छात्र बहराइच व एक सिद्धार्थनगर का था इन लोगों से पुलिस ने पूछताछ की लेकिन कोई सुराग नही लग सका।
 
अपहरणकर्ताओं द्वारा  जिस नंबर से फिरौती की रकम  की डिमांड की गई थी ट्रूकॉलर पर उस नंबर पर मिठाईवाला के नाम की चर्चा की जा रही है वही अपहृत छात्र के नंबर की लास्ट लोकेशन पर किसी लड़की की अंतिम काल की बात कही जा रही है इस हाई प्रोफाइल केस के खुलासे के लिए मोबाइल  लोकेशन के सहारे गिरफ्तारी के लिए लगाई गई पुलिस टीमें   गैर जनपदों की खाक छान रही है पुलिस सूत्रों के अनुसार छात्र और अपहरणकर्ताओं के नंबरों की लोकेशन के आधार पर पुलिस अपहरणकर्ताओं तक पहुंचने के प्रयास मे लगी है।
वही तीन बीत जाने के बाद भी कोई सुराग न मिलने पर इस हाई प्रोफाइल अपहरण मामले में  पयागपुर विधान सभा से भाजपा के विधायक सुभाष त्रिपाठी ने बृहस्पतिवार को  मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव से पूरे घटना को लेकर वार्ता करने के उपरांत सिविल लाइन स्थित एसपी आवास सांसद कैसरगंज प्रतिनिधि के साथ लगभग सायं चार बजे  पहुंच कर एसपी शैलेश कुमार पाण्डेय से एक घंटे की लम्बी बात चीत के साथ  छात्र की सकुशल बरामदगी की बात की है।
विधायक सुभाष त्रिपाठी ने पुलिस अधीक्षक से मिलने के उपरांत यह बताया है कि पुलिस टीम मेहनत से लगी हुई है मामले के नजदीक पहुंच चुकी है।
आईजी/डीआईजी डाक्टर राकेश सिंह ने बताया है कि मेडिकल छात्र की सकुशल बरामदगी को लेकर 7 टीमे गठित की गयी जल्द ही बरामदगी कर ली जाएगी।
वही प्रशासन के साथ साथ परिजनों की चिंताएं काफी बढ गयी है अपहृताओ के द्वारा फिरौती की रकम की डेड लाइन में कुछ घंटे शेष बचे हैं। पुलिस के हाथ अभी खाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *