Gonda News:चक्रवर्ती तूफान ने क्षेत्र में कहर बरपाया हजारों पेड़ धराशायी पांच किलोमीटर में रहा तूफान छपिया मन्दिर के बगल से निकल गया 

चक्रवर्ती तूफान ने क्षेत्र में कहर बरपाया हजारों पेड़ धराशायी पांच किलोमीटर में रहा तूफान छपिया मन्दिर के बगल से निकल गया

प्रशासन पीड़ितों का हाल जानना नही समझा मुनासिब
लेखपाल तक नही पहुंचे मौके पर ग्रामीणो में रोष
अजय त्रिपाठी
 गोण्डा। जनपद के विकास खण्ड छपिया में चक्रवाती तूफान ने भारी तबाही मचायी है करीब पांच किलोमीटर में तबाही मचातो हुए भगवान स्वामी नारायण छपिया धाम मन्दिर के बगल से निकल गया है।
स्वामी नारायण छपिया गांव के आसपास इलाके में
बृहस्पतिवार शाम  6:00 बजे एक चक्रवर्ती तूफान ने क्षेत्र में दहशत फैला दिया जिसमें हजारों पेड़ धराशाई हो गए एक पेड़ तो बाहर खड़ी कार पर गिरा जिसमें कार को बहुत नुकसान हुआ है। क्षेत्र में कई घरों को भी बहुत नुकसान हुआ है।
छपिया से तेंदुआ रानीपुर सुरवार खुर्द पड़रिया ढ़ड़वा टैरवा  के आसपास के इलाके के लगभग पांच किलोमीटर की परिधि में तेज हवाओं बारिश के साथ आये चक्रवाती तूफान से बेश कीमती सागौन के पेड़ करीब 4000 से 5000 पेड़ को नुकसान हुआ है तूफान से पीपल के पेड़ जड़ सहित उखड गये। सबसे ज्यादा नूकसान तेदुआ रानीपुर गांव के पूर्व प्रधानाचार्य तदू पाण्डेय का बताया जा रहा सैकडो पेड़ सागौन के जड सहित उखड गये है।
वही प्रत्यक्ष दर्शियो का माने तो स्वामी नारायण छपिया धाम मन्दिर के जद से चक्रवाती तूफान होकर मन्दिर को बिना छति पहुचाऐ निकल गया है।
लेकिन गांव वासियों की माने तो इतना बडा नुकसान होने के बाद प्रशासन का कोई जिम्मेदार मौके पर नही पहुंचा यहाँ तक कि तेदुआ रानीपुर के पूर्व प्रधानाचार्य रघुनन्दन पाण्डेय उर्फ तददू  संबन्धित को फोन मिलाते रहे लेकिन देखने नही पहुंचा जिससे प्रशासन के इस मनमाने पूर्ण रवैये से लोगों में रोष व्याप्त है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *