Lakhimpur Kheri News:गोला गोकर्णनाथ के ग्राम बहेरवा में दो पक्षों में हुआ चुनावी रंजिश को लेकर जमकर खूनी संघर्ष 11 लोग घायल

ग्राम बहेरवा में दो पक्षों में हुआ जमकर खूनी संघर्ष

चुनावी रंजिश को लेकर हुए पथराव में 11 लोग घायल

एक उपनिरीक्षक सहित एक सिपाही भी घायल

11 लोग गिरफ्तार, चार फरार, 60 / 70 अज्ञात नामजद

एन.के.मिश्रा

गोला गोकर्णनाथ खीरी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम बहेरवा मैं मंगलवार की रात भीषण चुनावी संघर्ष हो गया। विजयी प्रधान पक्ष और पराजित पक्ष में जमकर लाठी-डंडे चले और पथराव हुआ। कई घंटे तक संघर्ष होने के बाद जब सूचना कंट्रोल रूम से पुलिस को मिली तब मौके पर उप निरीक्षक दल बल के साथ पहुंचे। साथ में 112 नंबर गाड़ी भी गई थी। संघर्ष कितना भयंकर और खूनी था इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मौके पर गए उपनिरीक्षक और एक सिपाही भी घायल हो गया। जिसका इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोला में चल रहा है। पुलिस ने मौके से 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए सभी लोग चोटिल हैं।

जानकारी के अनुसार ग्राम बहेरवा में विजयी प्रधान पद के उम्मीदवार प्रदीप वर्मा पक्ष के लोगों ने पराजित विपक्षी गणों पर तीखी टीका टिप्पणी शुरू कर दी। जिसमें पहले गाली गलौज शुरू हुआ। बताते हैं गाली गलौज होते होते दोनों पक्षों के टकराव में बदल गया। दोनों पक्षों से लाठी-डंडे चले और पथराव शुरू हो गया। इस भीषण संघर्ष की सूचना किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम को दे दी कंट्रोल रूम ने गोला थाने को बहेरवा में संघर्ष होने की सूचना देकर तत्काल पुलिस फोर्स पहुंचने को कहा।

गोला कोतवाली से उपनिरीक्षक अरुण कुमार,आरक्षी सुभाष सोनी दल बल के साथ और 112 नंबर गाड़ी को लेकर मौके पर पहुंचे। बताते हैं पुलिस बल मौके पर पहुंचने के बाद भी संघर्ष नहीं रुका और दोनों पक्षों में जमकर पथराव होता रहा। इस भीषण पथराव में उपनिरीक्षक अरुण कुमार और आरक्षी सुभाष सोनी भी घायल हो गए ।

पुलिस ने मौके से गोकुल प्रसाद, शारदा, कृष्ण कुमार पुत्र बदलू, राजेश, संदीप वर्मा , कृष्ण कुमार पुत्र चेतराम, राजकमल ,राम सुरेश, उत्तम कुमार , राजेंद्र और रामकुमार को गिरफ्तार कर लिया है। बताते हैं गिरफ्तार सभी 11 लोग भी चोटिल हुए थे जिनकी डॉक्टरी जांच कराई गई है। नामजद 15 लोगों में से चार फरार बताए गए हैं। पुलिस ने धारा 151, 107, 116 ,186, 332 ,353 ,336 ,337, 147, 148 और 182 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया है। साथ में महामारी अभियोग भी दर्ज किया गया है।

गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस तैनात कर दी गई है ताकि कोई बड़ी घटना ना हो सके। घटना के बारे में कोतवाली प्रभारी अरविंद पांडे श्री देव जानकारी चाहिए तो उन्होंने फोन उठाना भी मुनासिब नहीं समझा। पुलिस क्षेत्राधिकारी संजय नाथ तिवारी ने फोन तो उठाया परंतु खाना खा रहा हूं कहकर कोई विवरण देने से मना कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *