Gonda News:10 आयुर्वेदिक तथा 03 होम्योपैथिक चिकित्साधिकारियों को मिला नियुक्ति पत्र

विधायक तरबगंज ने नवनियुक्त चिकित्साधिकारियों को दिया नियुक्ति पत्र

राम नरायन जायसवाल
गोण्डा। सोमवार को वीडियोकान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से जनपद में नवनियुक्त क्षेत्रीय आयुवेर्दिक एवं यूनानी व होम्योपैथिक अधिकारियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। प्रदेश के  मुख्यमंत्री ने लखनऊ से वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से नवनियुक्त चिकित्साधिकारियों को नियुक्ति पत्र जारी किया। वहीं एनआईसी में विधायक तरबगंज  प्रेम नारायण पाण्डेय, जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही तथा सांसद गोण्डा के प्रतिनिधि रमाशंकर मिश्रा ने नवनियुक्त 10 आयुर्वेदिक तथा 03 होम्योपैथिक अधिकारियों को अपने हाथों से नियुक्ति पत्र वितरित किया।

इस अवसर पर विधायक तरबगंज प्रेम नारायण पाण्डेय ने कहा कि परम्परागत चिकित्सा पद्धति को प्रेरित करने का सर्वोत्तम माध्यम आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति है। उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के दौरान आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति का महत्व बढ़ा है। उन्होंने नवनियुक्त चिकित्साधिकारियों को शुभकामना दी तथा कहा कि वे लोग पूरे मनोयोग से लोगों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए काम करें।जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने जिला आयुर्वेद एवं यूनानी अधिकारी को सख्त निर्देश दिए कि आयुष विभाग में रिक्त 14 पदों के लिए तत्काल प्रभाव से  अध्याचन शासन को भेजा जाय जिससे रिक्त पदो के सापेक्ष तैनाती कराई जा सके।

उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि किराए भवनों में चल रहे आयुर्वेद अस्पतालों को निकटतम सीएचसी या पीएचसी में शिफ्ट कराया जाय ताकि जनसामान्य को सरकारी अस्पताल में एक ही जगह सभी प्रकार की चिकित्सा सुविधाएं मिल सकें। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जनपद में ग्रामीण क्षेत्रों में आयुर्वेदिक उपचार करने वाले चिकित्सकों की सूची बनाई जाए जिससे उनका सहयोग आयुर्वेदिक उपचार में सहयोग लिया जा सके। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही औषधीय गुणों वाले पौधों की खेती को प्रोत्साहित किया जाय।

आयुर्वेद एवं यूनानी अधिकारी द्वारा बताया गया कि जनपद में 06 हेल्थ वेलनेस सेन्टर खुल रहे हैं जिनमें हर्बल गार्डेन बनाए जाएगें।नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम में सीडीओ शशांक त्रिपाठी, जिला आयुर्वेद एवं यूनानी अधिकारी  तथा अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *