Lakhimpur Kheri News:दलदल युक्त मार्ग से निकलने को विवश कई गांवों के ग्रामीण,

अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के कानों पर नहीं रेंग रही जूँ।

एन.के.मिश्रा
गोला गोकर्णनाथ (खीरी)। ब्लॉक कुम्भी गोला की ग्राम पंचायत लंदनपुर में दर्जनों बदहाल मार्ग स्थानीय लोगों के लिए मुसीबत का सबब बनी हुई हैं। कहना गलत नहीं होगा कि इनको बनवाने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के पास वक्त नहीं है। ग्रामीण क्षेत्रों की अधिकांश सड़कों की हालत बहुत ही दयनीय है।

बताते चलें कि द्वारिकागंज से दशरथपुर का मार्ग मात्र 1.5 किलोमीटर है। इस सड़क पर दर्जनों गांवों के लोग प्रतिदिन अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए इन्हीं रास्तों से गुजरते हैं। यह मार्ग ग्राम पंचायत लंदनपुर के अंतर्गत आती है। द्वारिका गंज निवासी अंकित वर्मा, अतुल वर्मा, अमित वर्मा, सोमवारी, रामसिंह, नवनीत वर्मा, कौशल वर्मा, सर्वेश वर्मा आदि ग्रामीणों ने बताया पक्की सड़क तो दूर कभी कभार कच्ची मिट्टी डालकर गड्ढे ही भर दिए जाएं तो बहुत ही बड़ी बात है। विगत 10 वर्षों से मिट्टी भी नहीं नहीं डाली गई जिससे बड़े-बड़े गड्ढे होकर आए दिन किसान भाइयों की गन्ने से भरी ट्राली ट्रैक्टर पलट जाते हैं। अपनी जान जोखिम में डालकर बड़ी मुसीबतों का सामना करते हुए किसान अपना काम करते हैं।बरसात में गड्ढों में पानी भर जाने के कारण लोगों को निकलने का रास्ता बंद हो जाता है। इसी तरह झाऊपुर मार्ग व द्वारिकागंज गांव से दशरथपुर को जाने वाला मार्ग भी कई वर्षों से उपेक्षा का शिकार है। बरसात के दिनों में तो इस मार्ग पर आवागमन भी पूरी तरह बंद हो जाता है। लोगों को बाजार स्कूल आदि जरूरतों हेतु कई किलोमीटर फेर करके जाना पड़ता है। ग्रामीणों ने बताया जनप्रतिनिधियों से इन मार्गों को बनवाए जाने की कई बार मांग कर चुके हैं। लेकिन जनप्रतिनिधियों को अपने ही काम से फुर्सत नही मिलती।अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से फरियाद कर ग्रामीण थक चुके हैं। लेकिन हालत जस की तस बनी हुई है। द्वारिकागंज गांव में निकलने के लिए रास्ता तक नहीं है। जहां एक तरफ सरकार स्वच्छ भारत मिशन अभियान को पूरा करने पर जोर दे रही है तो वहीं कुछ अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के चलते स्वच्छ भारत मिशन अभियान को पलीता लगता नजर आ रहा है।

ग्रामीणों ने यह भी बताया की पिछले पंचवर्षीय में लगभग लन्दनपुर की ग्राम पंचायत में हर गांव में विकास कार्य कराए गए लेकिन अधिकारियों व जनप्रतिनिधि की मनमानी के चलते द्वारिकागंज गांव की सड़कें व नाली आज भी अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही हैं, ग्रामीणों ने बताया सड़क व नाली बनने के सम्बंध में अधिकारी व जनप्रतिनिधियों से कई बार कहा गया लेकिन गांव में अभी तक एक ईंट भी नहीं लगवाई गई। आखिर कब तक दलदल में अपनी जान को जोखिम मे डालकर आवागमन करते रहेंगे ग्रामीण, कब मिल पाएगी इस समस्या से निजात।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *