Lakhimpur Kheri News:दीक्षा ऐप की मदद से आकर्षक बनाएं शिक्षण व्यवस्था : डीएम

जनपद खीरी में आयोजित हुई दीक्षा एप पर एक दिवसीय कार्यशाला, जिले के विभिन्न शैक्षिक संस्थानों के प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य हुए शामिल

शिक्षण प्रणाली में मील का पत्थर साबित होगा दीक्षा एप 


कलेक्ट्रेट सभागार में बेसिक शिक्षा विभाग के कराई कार्यशाला, डीएम ने किया शुभारंभ

एन.के.मिश्रा


लखीमपुर खीरी 21 अक्टूबर 2020। बुधवार को जिला मुख्यालय के कलेक्ट्रेट सभागार में बेसिक शिक्षा विभाग के तत्वावधान में दीक्षा एप पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन हुआ। जिसका शुभारंभ डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने डायट प्राचार्य डॉ ओपी गुप्ता की मौजूदगी में किया।


कार्यशाला को संबोधित करते हुए डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने  प्रदेश सरकार द्वारा शिक्षण व्यवस्था को आकर्षक बनाने हेतु ख्याति लब्ध शिक्षाविद एवं विभिन्न विषयों के विशेषज्ञ द्वारा तैयार किए गए दीक्षा ऐप की विशेषताओं एवं उसकी प्रासंगिकता पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि आज के समय में शिक्षा प्रणाली को कैसे बेहतर बनाया जाए इसके लिए सरकार नित नए कदम उठा रही है।


उन्होंने कहा कि आज की कार्यशाला में दीक्षा एप के विषय में विभिन्न विशेषज्ञों द्वारा आप सब को विस्तार से जानकारी दी गई है। यह ऐप शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगा। आज के समय में शिक्षण व्यवस्था को सुगम बनाने हेतु डिजिटल प्लेटफॉर्म हेतु इस ऐप का सृजन किया गया है। उन्होंने बताया कि इस ऐप में पूरा पाठ्यक्रम एवं आकर्षक शिक्षा सामग्री मौजूद है। 


कार्यशाला में प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डॉ ओपी गुप्ता ने इस ऐप की विशेषताओं एवं इसके माध्यम से शिक्षा प्रणाली में होने वाले आमूलचूल परिवर्तन के विषय में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वर्तमान परिदृश्य में इस ऐप की प्रासंगिकता और बढ़ गई है। बच्चों का शिक्षा के प्रति कैसे ध्यानाकर्षण किया जाए, इसका भी इस ऐप में विशेष ध्यान रखा गया है। 
इस कार्यशाला में शिक्षा क्षेत्र के विभिन्न विशेषज्ञों द्वारा उपस्थित विभिन्न विद्यालयों के प्रबंधकों एवं प्रधानाचार्य को प्रशिक्षित किया गया। शैक्षिक माहौल को कैसे बेहतर बनाया जाए इस पर काफी समय तक चर्चा हुई।


आयोजित कार्यशाला में डायट के विभिन्न प्रवक्ता, शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न विशेषज्ञ काफी संख्या में जिले के विद्यालयों के प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *