Lakhimpur Kheri News:धान की फसल औने पौने दामों पर बेचने को मजबूर किसान,खरीददारी शुरु नही

सरकारी दावे फेल,एक अक्टूबर से शुरू होनी थी धान खरीद
एन.के.मिश्रा
मोहम्मदी,लखीमपुर खीरी।धान खरीद के सभी सरकारी दावे फेल, एक अक्टूबर से शुरू होनी थी धान खरीद, मोहम्मदी में आवंटित 10 क्रय केंद्रों में से किसी भी क्रय केंद्र पर धान की खरीद शुरू नहीं हुई।केवल दिखावे के लिए ही बैनर लगा दिए गए हैं।किसी भी क्रय केंद्र पर धान नहीं,किसान तो मंडी में लगे सरकारी क्रय केंद्रों पर जाते हैं।लेकिन वहां पर कोई भी अधिकारी मौजूद नहीं मिलते इस पर मंडी समिति के कार्यवाहक सचिव विवेक मिश्रा से संपर्क किया गया।तो उन्होंने बताया कि अभी मिल का अटैचमेन्ट,हैंडलिंग ठेका,परिवहन का ठेका नहीं हुआ।इस कारण से अभी तक धान खरीद शुरू नहीं हो सकी जब खरीद शुरू हो जाए तब किसान अपना पंजीकरण करवाकर टोकन लेकर मंडी में आए हमारी मंडी के अंदर 10 सेंटर लगे हुए हैं।जिसमें से विपणन शाखा के चार, पीपीएफ का एक, यू पी पी सी यू के चार, उत्तर प्रदेश रा0कृ0 उ0 मंडी परिषद का एक, कुल मिलाकर 10 सरकारी क्रय केंद्र स्वीकृत हुए हैं लेकिन अभी तक किसी पर भी खरीद शुरू नहीं  पाई मंडी समिति के अंदर धान को उठाने वाले पंखे पर जंग लगा हुआ है धान की सफाई करने वाली मशीनों में कूड़ा भरा हुआ है यहां तक कि मंडी परिषद के भवन के बाहर भी पढ़े उपकरणों के ऊपर पान पुड़िया थूक कर उनको भी गन्दा किया हुआ है।
कुछ भी हो इससे किसान काफी परेशान है ओने पौने दामों पर क्षेत्र के किसान अपनी धान की फसल में चल रहे हैं जिस पर मिल मालिक अपनी मर्जी से 1200 और 1300रु में धान की फसल बेच रहे हैं।
मोहम्मदी क्षेत्र के आसपास की राइस मिलों के बाहर दर्जनों ट्रालियां खड़ी है। जिससे किसान दिन और रात लाइन में लगकर अपनी धान की फसल औने पौने दामों पर बेचने को मजबूर हैं। किसानों का कहना है कि जब हम सभी किसानों की फसल मिल मालिक खरीद लेंगे तब जाकर सरकारी सेंटर शुरू होंगे और हमारे द्वारा बेची गई फसल को ही बिचौलिए सरकारी दामों पर बेचेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *