Gonda Colonelganj News:मूक बधिर की समस्त सम्पत्ति का बैनामा धोखे से कराया पुलिस से शिकायत

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज(गोंडा)। बहाने से एक मूक बधिर व्यक्ति को तहसील लाकर उसकी सारी संपत्ति का बैनामा करा लिया गया तथा सम्पत्ति का पैसा उसके खाते में जमा करने का बयान दिया गया। मगर खाते में धन नही है और मूक बधिर व्यक्ति बेसहारा हो गया है। कोतवाली करनैलगंज अंतर्गत ग्राम करुआ के मजरा पांडेय पुरवा निवासी शेषकुमार पांडेय ने पुलिस अधीक्षक को ऑनलाइन प्रार्थना पत्र दिया है। जिसमे कहा गया है कि उसका छोटा भाई विजय कुमार जन्म से ही मूक बधिर है। उसकी पत्नी व दो बच्चे भी हैं। जिन्हें घर छोड़कर वह पटियाला शहर में रहता था। जहां मेहनत मजदूरी करके परिवार के भरण पोषण के लिये धन भेजता था। उसी बीच उसके चचेरे भाई उसके मूक बधिर भाई की पत्नी को बहला फुसला कर अपने पक्ष में कर लिया और उसके विरुद्ध उससे फर्जी मुकदमा भी दर्ज करवा दिया। जिससे दोनो भाई के परिवार में दूरी बन गई। चचेरे भाई की प्रताड़ना से तंग होकर छोटे भाई की पत्नी बच्चों के साथ लखनऊ चली गई और मजदूरी मेहनत करके बच्चो का भरण पोषण करने लगी। बीते दिसम्बर माह में उसका मूक बधिर भाई विजय कुमार वापस घर आया तो पत्नी व बच्चे घर पर नही थे। जिस पर चचेरे भाई ने उसे अपने घर बुलाकर उसे विधिवत भड़काकर अपने जाल में फंसा लिया। बीते 19 जनवरी को उसके मूक बधिर भाई को बहाने से तहसील ले जाकर उसके हिस्से की भूमि व घर को अपनी पत्नी के नाम बैनामा करवा लिया। तथा बैनामे के दस्तावेज में विजय कुमार के बैंक खाते में घर व जमीन का पैसा अदा करने का बयान दिया गया है। मगर खाते में पैसा नही दिया गया। मूक बधिर की समस्त सम्पत्ति का बैनामा धोखे से कराया गया। जिसकी शिकायत उसने अधिकारियों से किया मगर कोई कार्रवाई नही हुई। आरोप है कि कई दिन से उसके मूक बधिर भाई की तवियत खराब है, मगर सनद मिटाने की नियत से उसकी दवा न कराकर उसे मौत की नींद सुलाने का प्रयास किया जा रहा है। उसने मामले की जांच कराकर अपने भाई की जान बचाने की मांग की है। प्रभारी कोतवाल एसआई शिवसरन गौड़ ने बताया कि मामला संज्ञान में नही है। फिर भी यदि ऐसा है तो जांच करवाकर कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *