Lakhimpur Kheri News:खीरी के 75 दलित बाहुल्य गांवों की बदलेगी सूरत, सिलाई मशीनों से महिलाएं बन रहीं आत्मनिर्भरः डॉ. निर्मल

योगी सरकार की योजनाओं से हो रहा दलितों का सशक्तिकरण

टेलरिंग शॉप योजना के तहत वितरित की गईं सिलाई मशीनें

लखनऊ मंडल के 367 दलित बाहुल्य गांवों का होगा समग्र विकास

पं. दीनदयाल स्वरोजगार योजना से दलित बन रहा आत्मनिर्भर

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर-खीरी ।केंद्र व प्रदेश सरकार की दूरदर्शी योजनाओं से अब यूपी बदल रहा है। लखनऊ मंडल के 367 दलित बाहुल्य गांवों में पीएम आदर्श ग्राम योजना से विकास होगा। पीएम नरेंद्र मोदी के इस फैसले के दूरगामी परिणाम होंगे। उक्त उद्गार बुधवार को एलआरपी गेस्ट हाउस में उप्रअनुसूचित जाति वित्त व विकास निगम के अध्यक्ष डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल ने व्यक्त किए। इस दौरान उन्होंने सरकार की महत्वकांक्षी योजना टेलरिंग शॉप योजना के तहत 52 लाभार्थियों को सिलाई मशीन और सिलाई मशीन का अधिकार पत्र वितरित किये।

डॉ. निर्मल ने आगे कहा कि सीएम आवास योजना में अनुसूचित जाति के बेहद कमजोर जातियों थारू, कोल, मुशहर और शहरिया आदि हाशिए की जातियों को प्राथमिकता देने के निर्देश भी दिए गए हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में दलित अपने आपको सुरक्षित महसूस कर रहा है व विकास की मुख्यधारा से जुड़ रहा। पहली बार दलित बाहुल्य गांव में भी विकास के सभी कार्यों के लिए पीएम आदर्श ग्राम योजना के तहत कार्य शुरू हो रहे हैं। इसके तहत पूरे प्रदेश में 3739 गांवों का चयन किया गया। कुल 239.35 करोड़ की धनराशि राज्य सरकार को अवमुक्त कर दी गई। पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्व-रोजगार योजना, नगरीय क्षेत्र दुकान निर्माण योजना, लांड्री एवं ड्राईक्लीनिंग योजना के तहत हाशिए के समाज के लोगों के दिन बहुर रहे हैं।

डॉ. निर्मल ने आगे कहा कि पीएम आदर्श ग्राम योजना का उद्देश्य प्रदेश के चिन्हित ग्रामों के सभी वर्गों की न्यूनतम आवश्यकताओं की पूर्ति करना व व्यक्ति को एक सम्मानजनक जीवन जीने के लिए वातावरण उपलब्ध कराना है। आदर्श ग्राम अन्य गांवों के लिए रोल मॉडल बनेंगे। इस योजना से गांवों में सड़क, बिजली, सोलर लाइट और पेयजल के संसाधनों की व्यवस्था की जाएगी, जिससे दलित अपने ही गांव में न केवल स्वरोजगार के लिए प्रेरित होगा, बल्कि उसके विकास का रास्ता भी खुलेगा।

डॉ. निर्मल ने दलितों से रोजगार के क्षेत्र में आगे आने की भी अपील की। रोजगार से दलित वर्ग के लोग आर्थिक विकास कर सकते हैं। आज स्वरोजगार के लिए वित्तीय मदद मिल रही है। युवा स्वरोजगार से जुड़कर ही आत्मनिर्भर बन सकता है। हर वर्ष बाबा साहेब आंबेडकर की जयंती और महापरिनिर्वाण दिवस मनाया जाता है। सरकारें आती और चली जाती हैं, लेकिन बाबा साहेब के पंचतीर्थ को बचाने और उसे विश्व पटल पर लाने का काम किसी ने किया तो केवल नरेंद्र मोदी ने किया। पीएम नरेन्द्र मोदी जी ने बाबा साहेब डॉ. आंबेडकर को वैश्विक सम्मान दिलवाया। लन्दन स्थिति डॉ. आंबेडकर का आवास नीलाम होने से बचाकर उसे स्मारक के रूप में विकसित किया। डॉ. आंबेडकर से जुड़े पंच तीर्थों यथा जन्मस्थल महू, शिक्षा स्थल 10 किंग्स हेनरी रोड लन्दन, दीक्षा स्थल नागपुर, निर्वाण स्थल 26, अलीपुर रोड दिल्ली और चैत्यभूमि मुंबई को भव्य स्मारकों का स्वरूप दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *