Lakhimpur Kheri News:डीएम ने मितौली की सीडीपीओ व सुपरवाइजर को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के दिए निर्देश

डीएम की अध्यक्षता में आयोजित हुई जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक, दिए निर्देश

एन.के.मिश्रा
लखीमपुर खीरी। डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ समिति की बैठक आयोजित हुई। जिसमें मुख्य रुप से सीडीओ अरविंद सिंह व सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल मौजूद रहे।

बैठक के आरंभ में सीएमओ डॉ० मनोज अग्रवाल ने बैठक के एजेंडा बिंदु सहित विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों के संबंध में अद्यतन स्थिति से अवगत कराया। बैठक में जिला स्तर पर विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों में स्वास्थ्य संकेतको की अद्यतन स्थिति एवं प्रगति पर बिंदुवार समीक्षा हुई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि पूरे स्वास्थ्य महकमे को डिजिटल प्लेटफॉर्म से जोड़ते हुए फील्ड में एक्टिवेट करें व स्वास्थ्य संकेतको में बेहतर परफॉर्मेंस दिखाएं। सभी अधीक्षक लीडरशिप रोल लेते हुए अपने-अपने ब्लॉक में स्वास्थ्य संबंधी शासकीय योजनाओं का जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन सुनिश्चित कराते हुए इसकी डेली मॉनिटरिंग करें। आयुष्मान भारत में गोल्डन कार्ड बनाने में धीमी प्रगति पर चेतावनी दी। जिन सामुदायिक केंद्रों पर इस योजना के तहत उपचारित मरीजों की संख्या में कमी आई है। उन चिकित्सा अधिकारियों की व्यक्तिगत जिम्मेदारी तय की जाए। डीएम ने गत 10 माह में मितौली से एक भी केस एनआरसी में भर्ती ना कराने एवं अन्य विभागीय कार्यों में शिथिलता बरतने पर सीडीपीओ मितौली सुधा शुक्ला एवं सुपरवाइजर सुशीला मौर्य को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश जिला कार्यक्रम अधिकारी को दिए।डीएम ने आशाओं के भुगतान में तेजी लाने के साथ ही पूरी पारदर्शिता बरतने के निर्देश दिए। इस संबंध में शिकायत मिलने पर संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।सीडीओ अरविंद सिंह ने समीक्षा करते हुए कहा की जन्म मृत्यु पंजीकरण, आरसीएच सहित अन्य पोर्टल पर डाटा एंट्री ससमय शत-शत सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि शिथिल डाटा एंट्री ऑपरेटरों को चिन्हित कर अगली बैठक में कार्यवाही हेतु प्रस्तुत किया जाए।

आयुष्मान भारत के तहत स्कूल हेल्थ प्रोग्राम के विषय में कार्यक्रम के नोडल अधिकारी (आरकेएसवाई) डॉ आरपी दीक्षित ने आने वाले दिनों में आयोजित की जाने वाली विभिन्न गतिविधियों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिलेभर में 1271 उच्च प्राथमिक व इंटरमीडिएट कॉलेजों का चयन किया गया। जिनमें प्रत्येक विद्यालय में एक पुरुष व एक महिला को हेल्थ एंड वैलनेस एंबेसडर बनाया जाएगा। जिनका प्रशिक्षण मार्च तक पूर्ण कर लिया जाएगा। यह चयनित शिक्षक अपने-अपने विद्यालयों में प्रत्येक मंगलवार को स्वास्थ्य संबंधी गतिविधियां आयोजित कराएंगे।डीएम ने बैठक में चिकित्सालयो में ओपीडी की अद्यतन स्थिति,आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत आयुष्मान कार्डों का वितरण एवं उसके सापेक्ष उपचारित लाभार्थियों की अद्यतन स्थिति, जन्म पंजीकरण, स्टिलबर्थ रेश्यो, जननी सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, संस्थागत प्रसव, राष्ट्रीय दृष्टिहीनता निवारण कार्यक्रम, राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम, वेक्टर जनित रोग, न्यूबॉर्न स्टेबलाइजेशन यूनिट सहित विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की बिंदुवार समीक्षा की एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिये।बैठक में एसीएमओ डॉ आरपी दीक्षित, डॉ अश्विनी, डॉ रविंद्र शर्मा, डॉ संतोष चक, सीएमएस डॉ आरसी अग्रवाल, डॉ नसरीन सहित सभी एमओआईसी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *