Lakhimpur Kheri News:नौनिहालों की कैसे सुधरेगी सेहत: कई् परिषदीय विद्यालयों में नहीं बंटा दूध

नौनिहालों की कैसे सुधरेगी सेहत: कई् परिषदीय विद्यालयों में नहीं बंटा दूध:
एन के मिश्रा 
मोहम्मदी,लखीमपुर खीरी।क्षेत्र के सरकारी विद्यालयों में अध्ययनरत बच्चों की सेहत सुधारने का दावा फेल होता नजर आ रहा है।सरकारी विद्यालयों में अध्ययनरत बच्चों को बुधवार के दिन मिड-डे-मील में तहरी के साथ प्राथमिक विद्यालयों के बच्चों को 150 एमएल तथा उच्च प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को 200 एमएल उबला दूध वितरित किया जाना है।लेकिन कई विद्यालयों में दूध का वितरण नहीं हुआ।किन्हीं स्कूलों में दूध का वितरण हुआ तो गुणवत्ता नहीं मिली।बच्चे नाक भौंह सिकोड़ते नजर आए।
प्रधानाध्यापक अच्छा दूध न मिलने का रोना रोकर मामले से पल्ला झाड़ ले रहे थे। बच्चों की सेहत सुधारने के लिए प्रत्येक बुधवार को मिड-डे-मील में तहरी के साथ प्राथमिक विद्यालयों के बच्चों को 150 एमएल तथा 200 एमएल दूध वितरित किया जाना है। हालत यह है कि कई विद्यालयों में बच्चों को दूध पिलाने की फर्ज अदायगी की जा रही है। इन महत्वपूर्ण कार्यक्रमों पर न तो विभाग और न ही प्रशासन ध्यान दे रहा है। क्षेत्र के विद्यालय में तहरी के साथ दूध का वितरण किया गया। कुछ विद्यालयों में बिल्कुल ही बच्चों को दूध वितरण ही नहीं किया गया।पूछे जाने पर बच्चों ने बताया कि दूध में कोई स्वाद ही नहीं था।
पानी जैसा था। यही हाल अन्य ब्लाकों के सरकारी विद्यालयों का रहा। योजनाओं के क्रियान्वयन की यही स्थिति रही तो बच्चों की सेहत खराब होना तय है।
जिला बेसिक अधिकारी ने बताया कि मिड-डे-मिल योजना में लापरवाही किसी भी हाल मेें बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लापरवाह प्रधानाध्यापकों के खिलाफ नोटिस जारी की जाएगी। खंड शिक्षा अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *