Gonda News:इंसाफ के लिए सड़क पर उतरी अवध केसरी सेना,कुएं गिरे बछडे को बचाने को लेकर पांच युवको की मौत,दस लाख मावजा प्रत्येक मृतक परिवार वालों को नौकरी

अवध केसरी सेना द्वारा गांधी पार्क से लेकर देवीपाटन मंडल आयुक्त दफ्तर तक धरना प्रदर्शन,दस लाख मावजा प्रत्येक मृतक परिवार वालों को नौकरी 

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा। विगत बीते सप्ताह शहर के महाराजगंज पुलिस चौकी क्षेत्र के राजा मुहल्ले में निष्प्रयोजन पड़े कुएं में छुट्टा मवेशी बछडे के गिरने पर उसे निकालने हले उसी मुहल्ले के पांच युवको की प्रशासन की लापरवाही के चलते कुएं में पानी भरे जाने को लेकर जान चली गयी थी जिसको लेकर आज  अवध केशरी सेना के सैकड़ों  कार्यकर्ताओं ने शहर में पैदल मार्च कर प्रशासन को छः सूत्रीय ज्ञापन मंडला आयुक्त को  सौंपा है जिसमे प्रमुख मांग प्रत्येक मृतक परिवार वालों को 10 लाख रूपये एवं परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए नही तो आर पार की लडाई सेना लडेगी।

बताते चलें कि 8 सितंबर को कोतवाली नगर अंतर्गत महराजगंज मोहल्ले में बने एक कुएं में बछड़ा गिर गया था जिसको बचाने के लिए उसी मुहल्ले के  एक- एक करके पांच लोग कुएं में उतरे कुछ देर बाद जब कोई कुएं से बाहर नहीं आया तो लोगों ने पुलिस को जानकारी दी जबक  घटना स्थल मात्र दो सौ मीटर दूरी पर शहर कोतवाली की महाराजगंज पुलिस चौकी थी लेकिन समय रहते कोई पहुंच नही सका  जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासन और फायर ब्रिगेड की टीम वहां पहुंची और कुएं में गैस होने की बात करते हुए  प्रशासन द्वारा फायर ब्रिगेड की गाड़ी द्वारा कुएं में पानी भरा गया तथा उसके बाद सभी लोगों को बाहर निकाला गया बाहर निकालने के पश्चात होश में ना होने के कारण उन्हें जिला अस्पताल के लिए भेज दिया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

खुलासा-  पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ  कि कुएं में बछड़े  निकालने के लिए उतरे युवकों को मौत जहरीली गैस से  दम घुटने से नहीं बल्कि डूबने से हुई है रिपोर्ट में पेट व फेफड़े में पानी भरने की वजह से मौत हुई है राहत एवं बचाओ के दौरान कुएं में पानी भरा गया था जहरीली गैस का उपाय प्रशासन ने पानी ही माना था कुएं में पडे बेहोश  वैभव पुत्र बहादुर 18 वर्ष,दिनेश उर्फ छोटू पुत्र स्वर्गीय शिव शंकर 30 वर्ष,रविशंकर उर्फ रिंकू पुत्र स्वर्गीय शिव शंकर 36 वर्ष,विष्णु दयाल पुत्र स्वर्गीय रमेश रावत निवासी महाराजगंज शहर कोतवाली तथा  मन्नू सैनी पुत्र सुख लाल सैनी 35 वर्ष निवासी भदुवा तरहर देहात कोतवाली के बताये जाते है। जिसमें चार लोग बारी विरादरी के एक ही परिवार के थे ।मृतकों में  एक सैनी विरादरी से है जो रिश्तेदारी में आया हुआ था। 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने सभी मृतक परिवार को दो- दो लाख रूपये आर्थिक सहायता प्रदान की है। लेकिन अब जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पानी से डुबने से मौत का खुलासा होने पर परिवार वाले सीधे रूप से प्रशासन को दोषी ठहराया है। कुआ सुखा गैस से बेहोश हुई थे पानी से मौत हुई। 

उक्त मौत को लेकर सोमवार को अवध केशरी सेना के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने  गांधी पार्क से लेकर देवीपाटन मंडला आयुक्त कार्यालय तक धरना प्रदर्शन करते छः सूत्रीय ज्ञापन जिसमें प्रत्येक  मृतक परिवार वालों को दस लाख रूपये,परिवार के एक आश्रित को सरकारी नौकरी,मौत की उच्च स्तरीय जांच टीम गठित कर,गौ सेवको की मौत में दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई,नगर पालिका में खुले पडे गटर,नाली,कुएं को सुरक्षा के दृष्टिकोण से बन्द कराये जाय,फायर ब्रिगेड को दुर्घटना से बचाव के सुरक्षात्मक उपकरण उपलब्ध कराये जाय। 

गोंडा अवध केसरी सेना के जिला प्रमुख ठाकुर नीरज सिंह ने सैकड़ों की संख्या में मौजूद सेना के कार्यकर्ताओं के साथ प्रशासन को ज्ञापन सौपते हुए  कहां है कि महराजगंज मोहल्ले में हुए घटना को संज्ञान में लेकर प्रशासन कठोर और उचित कार्रवाई करें तथा साथ ही साथ मृतक के घर वालों को 10-10 लाख रुपए की सहायता राशि दी जाए नही तो सेना इससे बडा आन्दोलन करेगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *