Gonda Colonelganj News: पचास लाख की फिरौती मागने वाले पांच शातिर बदमाशो को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान भारी मात्रा में असलहो के साथ किया गिरफ्तार

करनैलगंज नगर के एक बडे व्यवसायी से पचास लाख की फिरौती मागने वाले पांच शातिर बदमाशो को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान भारी मात्रा में असलहो के साथ किया गिरफ्तार 

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा  

करनैलगंज,गोण्डा।करनैलगंज नगर के एक बडे व्यवसायी से पचास लाख फिरौती की मांग करने वाले पांच शातिर बदमाशो को पुलिस ने एक मुठभेड़ में  गिरफ्तार कर लिया है जबकि पुलिस पर अपराधियों ने फायर झोंक दिया था लेकिन सतर्कता के चलते कोई बड़ी घटना न घट सकी पुलिस को इन पकडे गये बदमाशो से भारी संख्या में असलहे बरामद हुए है। 

बताते चले कि करनैलगंज नगर के हार्डवेयर के बड़े व्यापारी दीपक सिंघानिया को एक सितंबर को फोन के माध्यम से 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई थी। जिसकी तहरीर व्यापारी द्वारा कोतवाली में देने के बाद पुलिस हरकत में आ गई और मोबाइल नंबर के माध्यम से अभियुक्तों की तलाश शुरू किया था। 

जिसमें करनैलगंज कोतवाली पुलिस के साथ-साथ पुलिस अधीक्षक ने कोतवाली पुलिस, एसओजी की टीम, कस्बा चौकी पुलिस को टीम गठित कर  मामले का खुलासा करने के निर्देश दिए थे। 
पुलिस में बुधवार की रात्रि करनैलगंज परसपुर मार्ग पर शीशामऊ गांव के निकट नहर पुलिया के पास सूचना के आधार पर घेराबंदी की तो नहर पुलिया के निकट ही पुलिस की टीम पर एक युवक ने फायर झोंक दिया और अंधेरे का फायदा उठाते हुए भागने की कोशिश करने लगे। पुलिस ने घेराबंदी करके वहां मौजूद पांच लोगों को पकड़ा। कोतवाल राजनाथ सिंह एवं चौकी प्रभारी रणजीत यादव ने संयुक्त रूप से बताया कि पुलिस पर फायर होने के बाद भारी संख्या में पुलिस बल को मौके पर बुला लिया गया और घेराबंदी करके 5 लोगों को पकड़ा गया। जिसमें रज्जू उर्फ राजा उर्फ शहरयार खान निवासी ग्राम निंदूरा थाना कटरा बाजार, फैसल उर्फ फैजल रजा निवासी ग्राम निंदूरा, हसनैन उर्फ बादशाह खान निवासी ग्राम निंदूरा, नासिर खां उर्फ सागर अली निवासी खान चौराहा पिपरी, मुर्शीद आलम निवासी ग्राम खिंदूरी थाना कटरा बाजार को गिरफ्तार किया गया। 
जिनके पास से एक पिस्टल 32 बोर, एक 315 बोर व दो 12 बोर तमंचा, गैस कटर एवं तमाम कारतूस बरामद किए गए हैं। पुलिस के अनुसार यह लोग कहीं डकैती डालने की योजना बना रहे थे। कोतवाल ने बताया कि मामले में जब से पूछताछ की गई तो दीपक सिंघानिया से 50 लाख रुपए की फिरौती मांगने का जुर्म भी कबूल किया। कोतवाल ने बताया कि दीपक सिंघानिया की तरफ से धारा 386 आईपीसी के तहत फिरौती का मुकदमा अज्ञात लोगों के विरुद्ध दर्ज किया गया था और अभियुक्तों की तलाश में अभियुक्त को पकड़ने गई टीम पर फायर झोंकने के मामले में पुलिस ने धारा 307, 399, 402 आईपीसी के तहत मुकदमा पंजीकृत किया है। 

पकडे गये अभियुक्तों के विरुद्ध अलग अलग जिलों व थानों में लूट, फिरौती व अन्य गंभीर अपराध दर्ज हैं। पकड़े गए अभियुक्तों को गुरुवार की शाम जेल भेज दिया गया। पुलिस की टीम में कोतवाल राजनाथ सिंह, एसओजी प्रभारी अतुल चतुर्वेदी व उनकी टीम, एसएसआई विनय यादव, चौकी प्रभारी रणजीत यादव चौकी के दो कांस्टेबल अबरार खान, अशफाक अहमद सहित तमाम पुलिसकर्मी अभियान में शामिल रहे।
करनैलगंज पुलिस ने लगातार दूसरी बड़ी घटना का पर्दाफास कर पुलिस की साख को बचाने में सफलता हासिल की है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *