Gonda News:घोसियाना मे पुलिस ने किया तांडव युवक की आंख फूटी: मसूद आलम

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा ।कोतवाली नगर के कब्रगाह घोसियाना कटहामाफी में रविवार को जुआरियों को पकड़ने के मामले के बाद पुलिस के तांडव को लेकर बसपा नेता समाजसेवी मसूद आलम खान ने तीखे गुस्से का इजहार किया है। उन्होंने कहा कि जुआरियों को पुलिस पकड़े और विधिक कार्रवाई करे ये ठीक है लेकिन जिस तरह का तांडव किया गया है वह बड़ा सवाल है। पुलिस की ओर से कार्रवाई की सूचना के बाद गांव पहुंचे मसूद आलम खान ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की। उन्होंने बताया कि पुलिस ने जुआरियों से झड़प के बाद जिस तरह से आम लोगों के घरों में घुस कर तांडव किया है वह बेहद निंदनीय और शर्मनाक है। यहां महिलाओं ने उन्हें बताया कि पुलिस ने कोई घर नहीं छोड़ा जहा तोडफ़ोड़ न की हो। पुलिस की बर्बरता से एक युवक की आंख में गंभीर चोट आई है जिसे लखनऊ रेफर किया गया है। महिलाओं ने बताया कि दोपहर पुलिस की चार से पांच गाड़ियां आई और महिलाओं, बुजुर्गों और बच्चों तक को नही छोड़ा। घर के दरवाजे सामान सब तहस नहस कर दिए। श्री खान ने कहा कि अगर पुलिस से जुआरियों की झड़प हुई थी तो आम लोगों पर यह बर्बरता पूर्ण कार्रवाई क्यो की गई। वे कोतवाली भी गए जहां उन्होंने पकड़ कर लाए गए अन्य लोगों से बातचीत भी की। श्री खान ने कहा इस मामले को मानवाधिकार आयोग को भेजा जायेगा। किसी भी तरह से तानाशाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। आरोप है कि पुलिस ने पूरे गांव में बस इसलिए तांडव किया कि जुआरियों से झड़प हो गई थी। श्री खान ने कहा कि जिन भी लोगों ने पुलिस कर्मियों के साथ बदसलूकी की है और जो वास्तव में जुआरी है उन पर कार्रवाई हो लेकिन इस तरह का तांडव कदापि उचित नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *