Lakhimpur- Kheri-News:गल्ला गोदामों पर लूट जारी खाद्यान घोटाले की फिर सुगबुगाहट

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी। जिला एक समय  सैकड़ो करोड़  के खाद्यान्न घोटाले के लिए चर्चित रहा है ।  तब पूरा पूर्ति कार्यालय सस्पेंड हुआ था । जांच सीबीआई को दी गयी थी। जल्द ही फिर कोई  बड़ा घोटाला निकल कर आए तो ताज्जुब की बात नहीं होगी । व्यवस्था से जुड़ा एक तहसील स्तरीय अधिकारी भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए काफी हैं।  मितौली तहसील  के तीनों गोदाम माफियाओं को अघोषित / बेनामी ठेके पर दे दिए गये है। कागजी लिखापढ़ी में कुछ नही है।बेहजम मितौली हो या मैगलगंज पूरी तरीके से लूट जारी होने की बात आ रही है।

मैगलगंज में तो गोदाम प्रभारी से किसी प्रकार का कोई मतलब गोदाम से है ही नहीं  ।एक बहुत ही चर्चित खाद्यान्न माफिया गोदाम का पूरा हिसाब किताब देखता है । अगर किसी प्रकार से कोई बात करनी है तो आप सीधे सीधे खाद्यान्न माफिया से ही बात करिए । ये सज्जन महीने में लाखों का वारा न्यारा करते हैं। गोदाम से कोटेदारों से बसूली हो या फिर खाद्यान्न कम देना सब इन्ही के इशारे पर ही चलता है।

कोरोना काल में सरकार के निर्देश के अनुसार महीने में दो बार कोटे का वितरण होता है। डबल वसूली और घततौली की शिकायतें किसी भी कोटेदार के पास बैठकर आप सुन सकते हैं।कई कोटेदारों की शिकायत मिलने के बाद भारतीय किसान यूनियन लोकतांत्रिक ने मामले को संज्ञान में लिया है।जल्द ही भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता लामबंद होते दिखाई पड़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *