Gonda Colonelganj News:6 लाख रुपये के गबन के मामले में जांच के आदेश पर अमल न होने पर तीन माह बाद रिमांडर पत्र जारी

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज(गोंडा)। ग्राम पंचायत द्वारा 6 लाख रुपये के गबन के मामले में जांच के आदेश पर अमल न होने पर तीन माह बाद रिमांडर पत्र जारी किया गया है। उपनिदेशक सूचना के पत्र पर एसडीएम ने तहसीलदार करनैलगंज को जांच सौंपी थी।

विकास खण्ड करनैलगंज के ग्राम पंचायत पैरौरी में बिना कार्य कराए ही 6 लाख रुपये के गबन की खबर बीते 26 अगस्त 20 को समाचार पत्रों में प्रमुखता से प्रकाशित हुई थी। जिसका संज्ञान लेकर गोंडा के उपनिदेशक सूचना ने मामले की जांच कराकर उचित कार्यवाही के लिये एसडीएम करनैलगंज के पास पत्र भेजा था। जिस पर एसडीएम द्वारा 4 सितम्बर को मामले की जांच तहसीलदार के करनैलगंज को सौंपी गई थी। मगर जांच व कार्यवाही तो दूर तीन माह से अधिक समय बीतने को हैं। अभी तक मौका मुआयना भी नही किया गया है। जो सरकारी धन के गबन जैसे मामले में अधिकारियों की उदासीनता उजागर कर रहा है।

ग्राम पंचायत पैरौरी के मजरा चिंतापाण्डेय पुरवा निवासी निवासी रामअचल पांडेय के घर से राधेश्याम पांडेय के घर तक नाली का निर्माण कराया जाना दिखाकर ग्राम पंचायत द्वारा 1 लाख 41 हजार 900 रुपये के भुगतान किया गया है। मगर मौके पर एक फिट भी नाली नही बनी है। कूप मरम्मत के नाम पर 1 लाख 6 हजार 211 रुपये निकाले गये। ह्यूम पाइप स्थापित किया जाना दिखाकर 1 लाख 11 हजार 475 रुपये, खड़ंजा मरम्मत कार्य दिखाकर 2 लाख 57 हजार 770 रुपये का भुगतान किया गया। मगर कार्य नही कराया गया। जिसकी शिकायत भी ग्रामीणों द्वारा की गई थी। तहसीलदार बृजमोहन ने बताया कि कटिंग आया होगा, जिसकी जांच मिली होगी। मुझे इसका खयाल नही आ रहा है। पत्र मिलने पर जांच की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *