Gonda News:गन्ना विभाग की अनूठी पहल, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के अन्तर्गत सिंगल बड चिप सिडलिंग तैयार किये जाने हेतु महिला समूहों का गठन

महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने एवं रोजगार मुहैया कराने के लिए गन्ना विभाग ने शुरू किए प्र्रयास

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा।जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल के निर्देशन में गन्ना विभाग द्वारा कोरोना संकट के बीच अनूठी पहल शुरू की गई है। शासन की मंशानुरूप एवं विभागीय निर्गत निर्देशों के अनुरूप कोविड-19 महामारी में महिलाओं को स्वरोजगार प्राप्त करने हेतु जनपद की गन्ना विकास परिषद नवाबगंज, मैजापुर, मनकापुर एवं गोण्डा के क्षेत्र में महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने के लिए स्वयं सहायता महिला समूह का गठन सम्बन्धित ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक द्वारा किया गया। इस योजना से महिलाओं को गन्ने की खेती में जहाॅ एक ओर रोजगार प्राप्त हुआ वहीं दूसरी ओर महिलाओं में आत्म-निर्भरता जागृत हुई।

बुवाई के लिए प्रयोग किये जाने वाले बीज को तैयार करने की जिम्मेदारी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को सौंपी गई है। नगदी फसल के रूप में किसान गन्ने की खेती करते हैं। इस योजना से महिलायें स्वावलंाबी होकर नर्सरी उत्पादन से जुडी हैं। इस कार्य के लिए विकास खण्ड-तरबगंज के अन्तर्गत गन्ना विकास परिषद नवाबगंज क्षेत्रान्तर्गत  ग्राम-करनीपुर में गठित महिला स्वयं सहायता समूह से जुडी महिलायें गन्ने की नर्सरी तैयार कर रही हैं। यह महिलायें एक वर्ष में करीब ढाई लाख पौधे उगायेंगी। एक पौधे की कीमत लगभग 03 रूपये होगी। इन पौधों के उत्पादन से लगभग 7.50 लाख रूपये की आमदनी होगी।

सरकार व विभाग द्वारा संचालित इस योजना से जहाॅ एक ओर स्वयं सहायता महिला समूह द्वारा तैयार किये गये सिंगल बड चिप सिंडलिंग से कम लागत में गन्ना उत्पादन में वृद्वि होगी,वहीं दूसरी ओर महिलाओं के स्वयं आत्मनिर्भर होने से उन्हें आर्थिक लाभ प्राप्त होने के साथ सामाजिक समृद्धि भी प्राप्त होगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *