Lakhimpur Kheri News:धड़ल्ले से हो रही हरे पेड़ों की कटाई,क्षेत्र भर में वन माफिया सक्रिय

एन.के.मिश्रा
, लखीमपुर खीरी। क्षेत्र भर में वन माफिया सक्रिय हो गए हैं।वह निडर होकर मोहम्मदी सराय,वन विभाग चौकी के सामने, गुलौली रोड पर हरे पेड़ों पर कुल्हाड़े चटका रहे हैं। इसकी वजह से पर्यावरण खतरे में पड़ता जा रहा है। हैरानी की बात है कि सबकुछ जानकर भी जिम्मेदार हाथ पर हाथ धरे बैठे हुए हैं।
कोरोना काल में ऑक्सीजन को लेकर किस तरह से मारामारी मची हुई थी, सभी ने देखा और सुना है। लोग एक-एक सांस के लिए तड़प रहे थे। बावजूद इसके पर्यावरण संरक्षण को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई जा रही है। खासकर वन विभाग के अफसर तो पूरी तरह से बेपरवाही पर आमादा हैं। उन्होंने वन माफियाओं को कथित तौर पर हरे पेड़ काटने की स्वीकृति दे दी है। परिणाम है कि माफिया क्षेत्र भर में सक्रिय हैं। रोजाना कहीं न कहीं हरे पेड़ काटकर उसकी लकड़ी बेच दी जाती है। ऐसा नहीं कि इसकी शिकायत ग्रामीण अधिकारियों से करते नहीं है। अफसर शिकायत सुनने के बाद कार्रवाई का आश्वासन देते हैं और मामले को ठंडे बस्ते में डाल देते हैं। बुद्धिजीवियों का कहना है कि यही हाल रहा तो पर्यावरण के साथ मानव जीवन का खतरे में पड़ना भी कोई बड़ी बात नहीं होगी।
नियमानुसार वन विभाग को सूखे पेड़ काटने की अनुमति देना चाहिए। विशेष दशा में ही हरे पेड़ काटने की इजाजत दी जाती है। लकड़ी माफियाओं का एक खेल यह भी है कि वह सूखे पेड़ की परमीशन लेकर हरा पेड़ काटते हैं। फिर इसे आरामशीनों में लेजाकर कोई सामान बनवाते और बेच देते हैं। ऐसा नहीं है तो फिर आरामशीनों में लकड़ी कहां से आ रही है ? इस सवाल का जवाब किसी के पास नहीं है।
मामले के संबंध में रेंजर मोबिन आरिफ से जानकारी चाही तो बताया मामला संज्ञान में आया है।जांच कराकर उचित कार्रवाई की जाएगी अवैध रूप से काटे गए पेड़ों में संलिप्त कर्मचारियों पर भी कार्रवाई अवश्य होगी।
इंस्पेक्टर बृजेश त्रिपाठी ने बताया मामला संज्ञान में आया है अवैध हरे पेड़ों में कटान संलिप्त लोगों के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *