Lakhimpur Kheri News:जंगली हांथियों के हमले से युवक की मौत

जंगली हांथियों के हमले से युवक की मौत
एन.के.मिश्रा
 लखीमपुर खीरी। मोहम्मदी महेशपुर रेंज की सहजनिया बीट के अंतर्गत ग्राम सहजनिया में बीते सोमवार की शाम को जंगल के पास खेत में खड़ी फसल को देखने गए क्षेत्र के एक गाँव निवासी एक युवक पर जंगली हाथियों ने हमला कर गम्भीर रूप से घायल कर दिया घायल को परिजन इलाज के लिए अस्पताल ले जा रहे थे रास्ते में युवक ने दम तोड़ दिया।
घटना खीरी जनपद के महेशपुर वन रेंज के चौकी क्षेत्र सहजनिया गांव की है गांव के निवासी भगवान दास वर्मा का लगभग बीस वर्षीय पुत्र प्रांजल वर्मा अपने साथियों के साथ जंगल के पास स्थित खेत पर फसल देखने गया हुआ था तभी वहां जंगली हाथियों का झुंड आ गया और हांथियो ने प्रांजल पर हमला कर घायल कर दिया सूचना पर पहुंचे परिजन उसे घायल अवस्था में अस्पताल ले जा रहे थे कि रास्ते में ही घायल ने दम तोड़ दिया। डीएफओ साउथ ने भी इसकी पुष्टि की है।
प्रांजल भगवानदास वर्मा के तीन पुत्रों में दूसरे नम्वर का पुत्र था प्रांजल पुवायां के एक महाविद्यालय में कृषि विज्ञान का छात्र था प्रांजल की अकाल मृत्यु से गांव में कोहराम मचा हुआ है वही परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।
मृतक के परिजनों ने घटना की जानकारी पुलिस व वनविभाग को दी है पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए पी एम हॉउस लखीमपुर खीरी भेज दिया है।
 क्षेत्रीय विधायक ने मृतक के परिजनों से की मुलाकात,बंधाया ढांढस
घटना की जानकारी मिलते ही मंगलवार सुबह को क्षेत्रीय विधायक लोकेन्द्र प्रताप सिंह मृतक के घर पहुंचे परिवारी जनों से मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया साथ ही हर सम्भव मदद देने का अस्वासन दिया। विधायक ने मौके पर ही दूरसंचार के माध्यम से डीएम व डीएफओ आदि अधिकारियों से मुआवजा दिलाने के लिए बात भी की।
*विभाग की कार्यशैली पर उठ रहे सवाल*
वन विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में कई दिनों से जंगली हाथियों ने उत्पात मचा रखा है हाथियों ने किसानों की कई एकड़ फसल भी बर्बाद कर दी है इसकी जानकारी वन विभाग को लगातार दी जा रही थी परंतु वन विभाग के कानों में जूं तक नहीं रेंगी परिणाम स्वरूप यह इतनी बड़ी घटना घट गई जिससे क्षेत्र में दहशत का माहौल व्याप्त है।
इस संबंध में जब वन क्षेत्राधिकारी मोबीन आरिफ से मीडिया कर्मियों ने जानकारी चाही तो उन्होंने कहा कि आप लोग ड्रामेबाजी बंद करिए अगर सांत्वना ही देना है तो मृतक के घर जाकर सांत्वना दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *