Gonda News:कलयुगी माँ सहित छः पर नवजात की हत्या का मामला दर्ज

दुश्मनी साधने के लिए अपने औलाद का घोंटा गला
बी.के.ओझा
गोण्डा।रंजिश में इंसान किस हद तक गिर सकता है इसकी बानगी जनपद के थानाक्षेत्र मोतीगंज में देखने को मिली।
जहां विरोधी को फंसाने के लिए उसपर बलात्कार का मामला दर्ज कराकर जेल भिजवाया।
इसके बाद जब पीड़ित ने पेट मे पल रहे बच्चे के डीएनए टेस्ट की मांग की तो बच्चा पैदा होने के बाद उसकी हत्या कर दी।
पूरा प्रकरण थानाक्षेत्र भटकहवा कस्टुआ का है जहाँ निवासिनी संध्या पत्नी अमरजीत ने बीते माह गांव के खुशीराम पर बलात्कार का मामला दर्ज कराया  था।
खुशीराम ने अपने को निर्दोष साबित करने के लिए महिला के पेट मे पल रहे बच्चे की डीएनए जांच की मांग उच्च अधिकारियों से की थी।
इसी बीच महिला ने 5 मई 2021 को सामुदायिक केंद्र पर एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया।
डीएनए की जांच से बचने के लिए उसने अपने परिजनों के साथ मिलकर बच्चे की हत्या कर उसे पास के एक झाड़ी में दफन कर दिया।
इस सबकी सूचना खुशी राम के भाई शंकरलाल ने सीओ व थाने की पुलिस को दी लेकिन जब तक डायल112 पहुंची तब तक बच्चे को दफन कर दिया गया था।
पीड़ित द्वारा इसकी शिकायत जिले के उच्च अधिकारियों से करते हुए शव का पोस्टमार्टम कर डीएनए जांच की मांग की गई।
जिलाधिकारी के निर्देश पर गठित टीम द्वारा 28 मई को बच्चे के शव क़ब्र से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।
पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्चे की हत्या की पुष्टि हुई व जिलाधिकारी द्वारा आरोपियों पर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया गया लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नही की।
पीड़ित मामला दर्ज करने के लिए उच्च अधिकारियों से कई बार मांग की लेकिन मामला दर्ज नही हो सका।
थक हारकर पीड़ित ने न्यायालय की शरण ली जिसके बाद न्यायालय के आदेश पर बच्चे की मां संध्या व उसके पति अमरजीत ,सास इन्द्रपति,ससुर नकछेद व नई पुरवा निवासिनी महिला सुनीता उर्फ़ नेताईन व अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ नवजात की हत्या के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *