Gonda Colonelganj News: एकतरफा प्रेम मे पागल देवर ने चचेरी भाभी का सर -धड बाके से काटकर किया अलग,खुद आला कत्ल सहित चौकी में पहुंच किया आत्म समर्पण

पुलिस अगर प्रेम मे पागल देवर पर की होती कार्यवाही तो लक्ष्मी आज जिन्दा होती,लक्ष्मी के पति ने दो माह पूर्व पत्नी को परेशान करने की थी शिकायत  

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा 

करनैलगंज,गोण्डा । भाभी के साथ एकतरफा प्यार व भाभी की बेरुखी से तंग देवर ने भाभी को बांके से काटकर उसकी गर्दन और एक हाथ शरीर से अलग कर दिया। गुरुवार को दिनदहाड़े उसकी हत्या करके खून से लथपथ बांका लेकर रेलवे लाइन के किनारे किनारे पुलिस चौकी जा पहुंचा। 

कोतवाली करनैलगंज क्षेत्र के ग्राम बुढ़वलिया खास का है। जहां अंगनू और नान्हू दो सगे भाई हैं। गुरुवार को अंगनू के बेटे राकेश गौतम ने नान्हू की बहू लक्ष्मी 30 वर्ष पत्नी हीरालाल गौतम को बांके से काट डाला। पहला वार उसके गर्दन पर करके उसकी गर्दन को काट दिया उसके बाद दाहिने हाथ को शरीर से अलग कर दिया। तीसरे बांके से उसकी कनपटी पर वार किया गया। वह वहीं गिर गई और मौके पर ही मौत हो गई। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं आरोपी पुलिस की हिरासत में है।ग्रामीणों के मुताबिक युवक ने महिला की हत्या कर रेलवे लाइन के किनारे किनारे भागकर पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। पुलिस के आलाधिकारी भी मौके पर जमे हैं। बताया जाता है कि मृतका का पति बाहर रहता था। तथा राकेश अपनी  चचेरी भाभी मृतका लक्ष्मी से एकतरफा प्रेम करता था ।

करीब दो माह से देवर व भाभी के बीच किसी बात को लेकर तनाव हो गया। तथा उसकी भाभी लक्ष्मी का राकेश से बोलचाल बन्द हो गया। उसने कई बार मार डालने की धमकी भी दी। जिसकी शिकायत मृतका के पति हीरालाल ने अगस्त माह में पुलिस से भी की थी। मगर कोई कार्रवाई न होने पर राकेश के हौसले बुलंद थे। 


दो माह पहले दोनों के बीच पारिवारिक विवाद के चलते दूरियां बढ़ गई और महिला की बेरुखी को देखकर राकेश अपने आप को रोक न सका। बताया जाता है कि राकेश अपनी चचेरी भाभी लक्ष्मी के प्रति एकतरफा प्यार करता था। जबकि लक्ष्मी उससे बात कर भी करना पसंद नहीं करती थी और दो माह से दोनों के बीच बातचीत होना भी बंद हो गई। वह लगातार उससे बातचीत करने का प्रयास करता रहा और उसके नजदीक जाने की कोशिश में महिला के परिजनों द्वारा पुलिस से शिकायत भी की गई। जिससे वह लगातार छुब्ध रहने लगा। उसकी तमाम कोशिशें फेल हो गई। 

गुरुवार को जब महिला लक्ष्मी अपने घर से थोड़ी दूर पर बने शौचालय की तरफ जा रही थी तो उसी बीच उसके चचेरे देवर राकेश ने बांके से उसके ऊपर प्रहार किया और देखते ही देखते उसकी गर्दन पर बांके से वार कर दिया। महिला अपना बचाव करने के लिए अपने हाथ को ऊपर उठाती तब तक उसके हाथ को उसके शरीर से अलग कर दिया गया। इस निर्मम हत्या की सूचना मिलते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया और भाभी के प्रेम में पागल युवक हत्या में प्रयुक्त बांके को लेकर सीधे पुलिस चौकी पहुंच गया। 


कोतवाल मनीष जाट ने बताया कि मृतका के ससुर नान्हू की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। कोतवाल ने बताया कि भाभी के साथ प्रेम प्रसंग के चलते यह घटना हुई है। घटना के बाद मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार व सीओ, कोतवाल सहित तमाम पुलिस अधिकारी पहुंचे। डाग स्क्वायड़ की टीम ने भी मौके पर पहुंच कर पड़ताल की। पुलिस क्षेत्राधिकारी मुन्ना उपाध्याय का कहना है कि यह घटना युवक के एकतरफा प्यार की वजह से हुई है। जिसमें महिला चचेरे देवर के कहने के मुताबिक साथ नहीं दे रही थी। इससे क्षुब्ध होकर उसने अपनी चचेरी भाभी की हत्या कर दी।

पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने बताया है कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है मृतका के ससुर के तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *