Lakhimpur Kheri News:पलिया के गांव सरखना में ईंट से वार कर की गई युवक की हत्या

एन.के.मिश्रा

पलियाकलां,लखीमपुर खीरी। पलिया नगर में लगातार बढ़ रही अपराधिक घटनाएं जिले के आला अधिकारी मौन साधे, पलिया कोतवाली के गांव सरखना में एक युवक की देर शाम ईंटों से सिर पर प्रहारकर हत्या कर दी गई। सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लिया। बताया गया है कि युवक का किसी बात को लेकर आरोपी से विवाद हो गया था। आरोपी मौका देखकर फरार हो गया‌ ग्राम पंचायत मरूआ पश्चिम के गांव सरखना निवासी 32 वर्षीय सुमित कुमार राणा पुत्र गिरधारी लाल राणा का देर शाम गांव निवासी एक युवक से किसी बात को लेकर विवाद हो गया विवाद इतना बढ़ गया की गुस्साए युवक ने सुमित के सिर पर ईंट से हमला कर दिया और इससे उसकी मौके पर मौत हो गई। आरोपी युवक मौके से फरार हो गया। हत्या की सूचना मिलते ही ग्रामीणों में दहशत फैल गई और मोके पर भारी भीड़ लग गई। आपको बता दें कि पलिया में अपराधिक घटनाएं लगातार बढ़ रही है और पलिया कोतवाल भानु प्रताप सिंह की कार्यवाही सिर्फ हवा हवाई ही साबित हो रही है।अपराधियों के हौसले दिन पर दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। जिससे अपराधियों में पुलिस का बिल्कुल भी डर नहीं है और हो भी कैसे जब अपराधी ही पुलिस के लोगों के साथ कोतवाली में बैठ कर चाय नाश्ता करते देखे जाते हो। अब बात करते हैं पलिया कोतवाल भानु प्रताप सिंह की जिनके कार्यकाल में अपराधिक घटनाएं बढ़ी हैं।
*एक नजार*(1) कोतवाली पलिया क्षेत्र के ग्राम पतवारा के धूसर निवासी मक्खन सिंह 35 वर्षीय पुत्र गुरतेज सिंह कंडोला उर्फ रेंगन को सरेराह कार सवार तीन अज्ञात हमलावरों ने ताबड़तोड़ 5 गोलियां मार कर निर्मम हत्या कर की जिसका खुलासा अभी तक नहीं हुआ।
(2) दैनिक अखबार के पत्रकार पर जानलेवा हमला0हुआ अभी-तक नहीं हुई अपराधियों पर कोई कार्रवाई पत्रकार के परिजनों को सता रहा डर।
(3)पलिया कोतवाली के अंतर्गत शारदा पुल के पास दो युवकों का शव बरामद हुआ एक की हत्या का राज अभी तक नहीं सुलझा परिवार के लोग अभी तक लगा रहे हैं चक्कर और दूसरा रंगरेजान मोहल्ला निवासी संजीव कुमार जो क्षत-विक्षत शव बरामद हुआ था उसका भी अभी तक नहीं हुआ खुलासा जबकि उस युवक के पास से दोषियों के खिलाफ लिखा हुआ पर्चा भी बरामद किया गया था लेकिन पलिया पुलिस ने मामले को दबा दिया।
(4) इसी तरह का मामला पलिया कोतवाली के अंतर्गत मझगई चौकी का है जहां पर मझगई चौकी इंचार्ज के तानाशाह ने एक महिला को न्याय तो नहीं दिला पाए, लेकिन अपराधिक गतिविधियों में फंसा कर फर्जी मुकदमा दर्ज कर दिया। ऐसे ही ना जाने कितने खुलासे हैं जो अभी होने बाकी हैं लेकिन पलिया कोतवाल भानु प्रताप सिंह की तैनाती पर तमाम सवाल खड़े हो गए हैं अब नगर के लोगों में भी प्रभारी के खिलाफ काफी आक्रोश पनप रहा है नगर के लोगों में पुलिस के खिलाफ तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है अब देखना यह है कि जिले के तेज तर्रार एसपी विजय ढुल पलिया कोतवाल पर क्या कार्रवाई करते हैं जिससे नगर में शांति व्यवस्था बनी रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *