Gonda News:जिला पोषण समिति की बैठक में डीएम का एक्शन, सीडीपीओ मनकापुर को प्रतिकूल प्रविष्टि के आदेश

कुपोषित बच्चों के पुनर्वासन में रूचि न लेने वाले सभी सीडीपीओ की समाप्त होगी सेवा, डीएम ने दिए निर्देश
डीएम ने आंगनबाड़ी केंद्रों का निर्माण कार्य पूरा करने पर एक्सईएन व एई आरईडी का रोका वेतन, नोटिस जारी
बाल विकास कार्यक्रमों में लापरवाही पर सभी सीडीपीओ को डीएम ने जारी किया कारण बताओ नोटिस
राम नरायन जायसवाल
 गोण्डा। डीएम मार्कण्डेय शाही ने जिला पोषण समिति की बैठक में गलत सूचना देने वाले सीडीपीओ मनकापुर सुशील कुमार को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के साथ ही तहसील तरबगंज में आने वाले ब्लाकों तरबगंज, नवाबगंज, वजीरगंज तथा बेलसर के सीडीपीओ को चेतावनी जारी करने, तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों पर पोषण वाटिकाएं न बनाने पर सभी सीडीपीओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने तथा वित्तीय वर्ष 2016-17 से निमार्णाधीन आंगनबाड़ी केन्द्रों का कार्य पूरा कराने पर कार्यदायी संस्था ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के एक्सईएन तथा एई का वेतन रोकने के साथ ही विभागीय कार्यवाही के आदेश दिए है। यह कार्यवाही डीएम श्री शाही ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला पोषण समिति की बैठक में की है।
जिलाधिकारी ने समीक्षा बैठक में निर्देश दिए कि ब्लाक कन्वर्जन्स की बैठकें सम्बन्धित तहसील के एसडीएम की अध्यक्षता में ब्लाक मुख्यालय पर ही सुनिश्चित कराई जाय। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी ब्लाकों के बीडीओ व सीडीपीओ निर्मित हो चुके आंगनबाड़ी केन्द्रों का संयुक्त निरीक्षण कर आगामी 07 फरवरी तक हैण्डओवर की कार्यवाही सुनिश्चित कराएं अन्यथा उनकी जिम्मेदारी तय की जाएगी। वहीं कार्यदायी संस्था ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के एक्सईएन व एई का वेतन रोकने के साथ ही उनके खिलाफ कार्यवााही के आदेश दिए हैं।
समिति की  बैठक में कुपोषित व अतिकुपोषित बच्चों को पोषण पुनर्वास में भेजने की प्रगति बेहद खराब पाई गई जिस पर नाराज डीएम ने रूचि न लेने वाले सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों की सेवा समाप्ति की कार्यवाही के आदेश दिए हैं। इसके अलावा उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि गोद लिए गए 46 गांवों का निरीक्षण न करने वाले अधिकारियों  का भी उत्तरदायित्व निर्धारित किया जाय तथा शासन के निर्देशानुसार गोद लिए गांवों को ही आदर्श गांवों के रूप में विकसित किया जाय। वजन मशीनें ब्लाकों पर न पहुंचने का भौतिक सत्यापन कराते हुए इसमें लापरवाही बरतने वाले अधिकारी-कर्मचारी की जवाबदेही तय करने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिए गए हैं।
बैठक में सीडीओ शशांक त्रिपाठी, सीएमओ डा0 अजय सिंह गौतम, डीपीओ मनोज कुमार, डीडीओ रजत यादव, डीसी हरिश्चन्द्र प्रजापति, जिला समाज कल्याण अधिकारी मोतीलाल, जिला प्रोबेशन अधिकारी जयदीप सिंह सहित अन्य अधिकारी तथा बाल विकास परियोजना अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *