Gonda Colonelganj News:सिकंदर लिखे हैं, कलंदर लिखे हैं, कलम ने सभी के मुकद्दर लिखे हैं,”क़यामत की हर यक निशानी लिखा है, कलम ने सारी कहानी लिखा है”:मशरूफ अहमद अंसारी

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज(गोंडा)। सिकंदर लिखे हैं, कलंदर लिखे हैं, कलम ने सभी के मुकद्दर लिखे हैं, आदम से लेकर जहां में अब तक, कलम ने सभी को बशर ही लिखे हैं, कलम ने खुदा की खुदाई लिखी है,उसी ने जहां में रहनुमाई लिखी है। बुढ़ापा, जवानी कलम ने लिखा है। मां-बाप की लेने को दुआ भी लिखी है, ना समझोगे तो बद दुआ भी लिखी है, क़यामत की हर यक निशानी लिखा है, कलम ने सारी कहानी लिखा है। यह बातें मोमिन अंसार सभा के पदाधिकारी मशरूफ अहमद अंसारी ने कही है। उन्होंने कहा कि कलम बच्चों, शिक्षकों, अधिकारियों, कारोबारियों, बुद्धिजीवियों, साहित्यकारों,की पहचान व शान है। यह ना होती तो बेशक खुदा की खुदाई होती मगर दुनिया का कोई कानून नहीं होता। इंसानियत नाम की कोई चीज नहीं होती, आदमी अनपढ़ जाहिल गंवार होता। मानव दुनिया की दौलत से मालामाल होता मगर इल्म व दीन की दौलत से कंगाल होता। ईश्वर, अल्लाह का हम सब पर बहुत बड़ा एहसान है कि उसने हम-सब को कलम की, नियामत अता करके दुनिया में भी अपनी रहमतों से नवाजा है। कारी शकील अहमद अंसारी, नसीमुद्दीन अंसारी, डॉ.नियाज़ अहमद अंसारी आदि लोगों ने उनके विचारों की सराहना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *