Gonda Mankapur News:स्वामी विवेकानंद इंटर कॉलेज में काव्य गोष्ठी का किया गया आयोजन

बी.के. ओझा

मनकापुर, गोंडा। मंगलवार को स्वामी विवेकानंद इंटर कॉलेज में काव्य गोष्ठी का किया गया आयोजन। जिसकी अध्यक्षता करुणा गौशाला के अध्यक्ष विद्या प्रसाद शुक्ला एवं संचालन डॉ धीरज श्रीवास्तव ने किया। राम लखन वर्मा के सरस्वती बंदना से कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ, कवित्री इशरत सुल्ताना ने पढ़ा- रोशन सभी के दिल में यूं जज्बये वतन। जज्बों से भरी ऐसी जुबां ढूंढ रही हूं।। चंद्रगत भारती ने अपनी रचना कुछ इस प्रकार पेश की ज्योतिषाचार्य कहते हैं, कुंडली बोलती भी है। राज हर आदमी का ये, बहुत से खोलती भी है।। ईश्वरचंद मेंहदावली ने अपनी रचना कुछ इस प्रकार पढ़ी- रवि सा कौन समर्थ है, जो दे दिव्य प्रकाश। ‘वह ईश्वर है’ नित्य जो, करता नहीं निराश।। आरके नारद ने पढ़ा- सारी दुनिया को हंस करके, जिसने हरदम प्यार दिया है। उसके संग संसार ने सारे, कांटो सा व्यवहार किया है।। डॉ० धीरज श्रीवास्तव ने अपनी रचना पढ़ते हुए कहा- मैं भी अब बेचैन हूं, तुम्हें रहा हूं खोज। जबसे भालू कर गया, चिड़िया को परपोज।। राम लखन वर्मा ने पढ़ा- नए साल में नई वैक्सीन से, सभी का जीवन रोशन हो। पीड़ित जो हैं कोरोना से, उनको भी अब आराम मिले।। पंडित राम हौसिला शर्मा की रचना- नीत मेरे तुम कब आओगे खूब सराही गई। उमाशंकर दुबे उदय ने अपनी रचना- कुछ इस प्रकार सुनाई- नए साल की खिचड़ी को, मिलकरके सभी पकाओ। नींबू, दधि, घी डाल- डाल कर, उसको खूब पचाओ। इसके अलावा मिश्रा, राजेश मिश्रा, खालिद हुसैन सिद्दीकी तथा अन्य रचनाकारों ने अपनी रचनाएं सुनाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *