Lakhimpur- Kheri-News-कलेक्ट्रेट सभागार में उ०प्र०खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति के जिला स्तरीय समिति की हुई बैठक

सकारात्मक सोच के लिए जरूरी है खेल : सांसद 

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी।  गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में उत्तर प्रदेश खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति की  नवसृजित जिला स्तरीय समिति की पहली बैठक आयोजित हुई।बैठक में मुख्य रूप से सांसद अजय मिश्र टेनी, विधायक सदर योगेश वर्मा, अध्यक्ष न०पा०प० लखीमपुर निरुपमा मोनी बाजपेई, डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह, सीडीओ अरविंद सिंह एवं जिला खेल अधिकारी सुनील भारती, सांसद प्रतिनिधि अरविंद सिंह संजय सहित अन्य सदस्य गण मौजूद रहे।
बैठक को संबोधित करते हुए सांसद अजय मिश्रा टेनी ने कहा कि खेलों का हमारे जीवन में बहुत महत्व है। खेल चाहे कोई भी हो, खेल हमें जहां शारीरिक तौर पर तंदरुस्त करते हैं वहीं मानसिक तौर पर भी सुदृढ़ बनाते हैं। यह सकारात्मक सोच को भी विकसित करते हैं। उन्होंने कहा कि आज हम फिट इण्डिया, हिट इण्डिया की बात करते हैं, इस के पीछे मंशा यह है कि स्वस्थ व्यक्ति ही स्वस्थ समाज के निर्माण में योगदान दे सकता है। खेल जीवन का अभिन्न अंग है, भले ही उसकी कोई भी प्रकृति हो। खेलों से ही स्वस्थ और निरोगी जीवन पाया जा सकता है। इसके लिए बाल्यकाल से अपनी आदत बना लेनी चाहिए।
विधायक योगेश वर्मा ने कहा कि स्कूल एवं कॉलेज में खेलों को सभी स्तरों पर प्रोत्साहित किए जाने की जरूरत है। इसी से देश को राष्ट्रीय और अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतरीन खिलाड़ी मिल सकेंगे। उन्होंने कहा कि सभी मिलकर ऐसा वातावरण बनाएं जिससे देश और प्रदेश एवं ज़िले का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ी तैयार हो सकें।
अध्यक्ष, नगर पालिका निरुपमा मोनी बाजपेई ने कहा कि इस समिति के माध्यम से खेलों के लिए एक नए माहौल का सर्जन होगा। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों की प्रतिभा के अनुरूप उचित मंच दिलाने में सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने समिति की सक्रियता बढ़ाने पर जोर दिया।
डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा है कि जिले में खेल प्रतिभाओं का प्रोत्साहित करने के लिए खेल गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाना बहुत जरूरी है। डीएम ने जिले में खेलों का बढ़ावा देने के साथ ही जिला खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति के लिए रिसोर्सेस बढ़ाने को सामाजिक, शिक्षण और खेल संगठनों से सक्रिय सहयोग की पेशकश की। उन्होंने जिले में सामाजिक संगठनों, शिक्षण संस्थानों और खेल के प्रति समर्पित जागरूक लोगों का आह्वान किया कि वे जिले में खेलों को बढ़ावा देने के लिये सक्रिय योगदान दें। जिससे प्रतिभावान खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जिले का नाम रोशन कर सकें।
सीडीओ अरविंद सिंह में उपस्थित जनप्रतिनिधियों एवं सदस्यों का आभार व्यक्त किया और कहा की पढ़ाई के साथ-साथ खेल क्षेत्र में प्रोत्साहन की अपार संभावनाएं है। आज की बैठक में जो भी सुझाव मिले हैं उन्हें कैसे धरातल पर उतारा जाए उसके लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे।
जिला क्रीडा अधिकारी सुनील कुमार भारती ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा नई खेल विकास एवं प्रोत्साहन नियमावली 2020 के अंतर्गत  “पे एंड प्ले” तथा “कम एंड प्ले” योजना के तहत प्रदेश सरकार ने जिला स्तर पर विभिन्न माध्यमों से आय के स्रोत बढ़ाकर खेलों को बढ़ावा देने की एडवाइजरी जारी की है। उन्होंने बताया कि गांव से लेकर शहर तक युवा वर्ग के पास योग्यता का प्रचुर मात्रा में भंडार है समिति के पुनर्गठन होने से खिलाड़ियों का सुसंगत एवं व्यवस्थित ढंग से चयन के साथ विकास एवं प्रतिस्पर्धा में एकरूपता देखने को मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *