Lakhimpur Kheri News:राकेश टिकैत व प्रशासन से वार्ता के बाद धरना खत्म आंदोलनकारी धरना स्थल से हटे चारो शव का पीएम शुरू

राकेश टिकैत व प्रशासन से वार्ता के बाद धरना खत्म

आंदोलनकारी धरना स्थल से हटे चारो शव का पीएम शुरू

 

एन के मिश्रा

लखीमपुर खीरी। तिकोनिया हिंसा के बाद करीब 6 – 7 हजार किसानों ने 4  शव रख कर धरना शुरू कर दिया था। बाहरी जिलो से भी किसान इकट्ठा हो गए थे। प्रशासन से राकेश टिकैत की कई राउंड वार्ता हुई। करीब 4 बजे राकेश टिकैत ने खुद कहा कि बातचीत में कई बातें तय हुई है।एडीजी एलआर प्रशांत कुमार ने बताया कि मृतकों के परिजनों को 45 – 45 लाख देने, घायलों को 10 लाख, मृतक के परिवार के एक सदस्य को राजकीय नौकरी व न्यायिक आयोग का गठन किया जाएगा। वार्ता में एडीजी एलआर प्रशांत कुमार, आईजी ज़ोन लक्ष्मी सिंह, डीएम डॉ अरविंद चौरसिया, एसपी विजय ढुल मौजूद थे। किसान नेता जसवीर सिंह विर्क भी मौजूद थे। वार्ता के बाद धरने पर रक्खे गए किसानों लवप्रीत सिंह थाना पलिया, नक्षत्र सिंह थाना धौरहरा, गुरविंदर सिंह व दलजीत सिंह के शव पीएम हाउस आ गए हैं। पीएम शुरू हो गया है। किसान नेता राकेश टिकैत भी धरना स्थल से प्रस्थान कर गए है । भाजपा कार्यकर्ता हरिओम मिश्र (आशीष मिश्र मोनू के ड्राइवर) थाना फरधान, शुभम मिश्र मण्डल अध्यक्ष शिव  पुरी लखीमपुर, श्याम सुंदर, रमन कश्यप पत्रकार साधना चैनल का पीएम बीती देर रात हो गया था। धरना स्थल से किसान हट गए है। जगवीर सिंह निवासी नानपारा बहराइच की तहरीर पर आशीष मिश्र मोनू व 14 – 15 अज्ञात पर हत्या, साजिश, बलवा आदि धाराओं में बीती रात एफआईआर कर दी  गयी थी ।

इनपुट के चलते भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी

बीती रात से बड़े आंदोलन का इनपुट मिलने से भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। अपर पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह ने बताया कि 5 कम्पनी पीएसी, 2 कम्पनी आरएएफ , 8 थानों की पुलिस, 20 दरोगा, 100 आरक्षी संवेदन शील इलाको में लगाये गए थे। जिले में किसी मार्ग पर ट्रैफिक रोका नही गया था। किसी इलाके में कर्फ्यू भी नही लगाया गया।

कई अधिकारी भी रहे मौजूद

तिकोनिया हिंसा के बाद कमिश्नर लखनऊ रंजन कुमार, एडीजी एलआर प्रशांत कुमार, आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह भी मौके पर आ गए थे। बेलरायां चीनी मिल गेस्ट हाउस सहित सारे होटल भरे थे। गुरुद्वारा में भी किसान रुके हुए थे। तिकोनिया में रहने के लिए कोई बड़ा होटल नही है।

 

मृतक शुभम मिश्र के पिता ने कहा –

लखीमपुर के मोहल्ला शिवपुरी के निवासी विजय मिश्र ने कहा कि उनके बेटे के चेहरे पर धारदार हथियार से घाव थे। वह शिवपुरी वार्ड का बीजेपी का मण्डल अध्यक्ष था। सब कुछ लूट गया। मांग एक है कि दोषियों को फांसी हो। दो भाई थे। हंसते खेलते थे सब दुख में तब्दील हो गया।

तीन गाड़िया आयी कुचलती निकल गयी

नानपारा बहराइच के  मृतक दलजीत सिंह  के पुत्र राजदीप सीह ने कहा कि पिता किसानों के हित के लिए संघर्ष करते थे। शनिवार को सुबह बाइक से लखीमपुर गए थे। मारे गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि तीन गाड़िया आयी। रौंदती चली गयी । सरकार दोषी को फांसी दे।

गृहराज्य मंत्री अपने संसदीय कार्यालय में रहे

तिकोनिया हिंसा के बाद केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्र टेनी के मो शाहपुरा कोठी आवास व संसदीय कार्यालय लखीमपुर में भारी सुरक्षा व्यवस्था है। टेनी दिन भर कार्यालय में रहे। मुलाकात में कहा कि यह साजिश है। जांच में सब खुल जायेगा। हिंसा उपद्रवियों ने की न कि किसानों ने।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *