Lakhimpur Kheri News:कृषि बिल के विरोध में किसान संगठनों ने किया चक्का जाम

एन.के.मिश्रा

निघासन, लखीमपुर खीरी। संसद के दोनों सदनों से पारित कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों द्वारा किये गए भारत बंद के आवाह्न पर आज मंगलवार को भारतीय यूनियन समेत विभिन्न किसान संगठनों ने देशभर में चक्का जाम कर किसान बिल को वापस लेने की मांग के साथ ही सरकार विरोधी नारे लगा कर अपना विरोध प्रदर्शित किया। किसानों के विरोध प्रदर्शन में सहयोग करते हुए देश के अधिकांश लोगों ने अपने रोजगार भारत बन्द के अंतर्गत बन्द रखे। सरकार ने इन विधयकों को किसान हितैषी बताते हुए दावा किया है कि इनसे किसानों की आय बढ़ेगी और बाजार उनके उत्पादों के लिए खुलेगा। लेकिन किसान संगठनों का कहना है कि ये विधेयक कृषि क्षेत्र को कार्पोरेट के हांथो में सौंपने की कोशिशों के हिस्सा है।इसी के चलते कृषि बिल के विरोध में आठ दिसम्बर (मंगलवार) को किसानों ने एक दिन के भारत बन्द के ऐलान में जगह-जगह से खबर सुनने में आ रही हैं कि चक्का जाम कर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा। किसानों द्वारा देश में जगह-जगह पर किये जा रहे कृषि बिल विरोध प्रदर्शन में निघासन क्षेत्र का किसान भी रोड जाम कर सरकार के विरोध में जमकर नारे बाजी की।बता दें कि इससे पहले किसान के पक्ष में समाजवादी पार्टी, कांग्रेस पार्टी, बीएसपी ने भी बिल का विरोध किया है।उत्तर प्रदेश के साथ-साथ कई राज्यों में किसान यूनियन के नेताओं ने कृषि बिल के खिलाफ विरोध कर रहे हैं। सरकार किसानों के हित में कोई फैसला नही ले रही है। यूनियन नेताओं व किसान संगठनों का कहना है कि किसानों की आय दोगुना करने का वादा सरकार भूल गई है। सरकार ताना शाही तरीके से सभी कानून लागू कर रही है।जिसके खिलाफ किसान आज रोड पर आ गया है। किसानों द्वारा आज एक दिन के भारत बंद के आवाह्न पर निघासन क्षेत्र के प्रमुख चौराहों निघासन चौराहा व क्लेशहरण चौराहे पर किसानों ने चक्का जाम कर शान्ति ढंग से कृषि बिल का विरोध प्रदर्शन किया व सरकार के खिलाफ नारे बाजी की व बिल वा सम्बंधित अपनी मांगों को लेकर  उपजिलाधिकारी ओम प्रकाश गुप्ता को ज्ञापन दिया। क्षेत्र के किसानों द्वारा किये जा रहे कृषि विरोधी आंदोलन में किसी प्रकार की कोई  अशांति न फैल पाए जिसके लिए क्षेत्र प्रशासन भी मुस्तैदी साथ खड़ा रहा। क्षेत्र के क्लेशहरण चौराहे पर चल रहे विरोध प्रदर्शन को शान्ति ढंग से पूर्ण होने के लिए सिंगाही थाना अध्यक्ष प्रदीप कुमार सिंह व तिकुनिया कोतवाली प्रभारी राम कुमार वर्मा मय फोर्स के साथ उपस्थित रहे व निघासन चौराहे पर निघासन कोतवाली प्रभारी दिलेश कुमार सिंह मय फोर्स के साथ उपस्थित रहे। कृषि बिल के विरोध में किसान ओमकार सिंह, गुरदेव सिंह, भल्लू भाई, गुरनेवाज सिंह, सैनखेडा प्रधान अहमद खां, गुरमीत सिंह, वशीर खां, प्रीतम सिंह, रमनजीत सिंह सहित क्षेत्र के हजारों किसान संसद के दोनों सदनों में पारित कृषि बिल के विरोध में क्षेत्र के प्रमुख चौराहों पर जाकर चक्का जाम कर सरकार के खिलाफ नारे बाजी करते हुए बिल वापस करने की मांग रखी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *