Lakhimpur Kheri News:अद्भुत प्रतिभा की धनी है कलाकार शिक्षिका कल्पना

एन.के.मिश्रा

गोला गोकर्णनाथ (लखीमपुर खीरी)।  गोला तहसील क्षेत्र के ग्राम मुस्तफाबाद की निवासी शिक्षिका कल्पना तिवारी ने चार धाम के चारों मंदिर (केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री) की पत्तों पर बहुत ही आकर्षक कटिंग कर अपनी विलक्षण प्रतिभा का परिचय दिया है। उनकी इस अद्भुत कला की प्रशंसा सोशल मीडिया सहित क्षेत्र के बुद्धिजीवी लोग लगातार कर रहे हैं। कल्पना की शिक्षा परास्नातक है और वह एक शिक्षिका हैं। यूं तो उन्होंने किसी विद्यालय से कला की कोई डिग्री या डिप्लोमा हासिल नहीं किया है। परंतु कहते हैं कि प्रतिभा किसी डिग्री और डिप्लोमा की मोहताज नहीं होती यह कहावत शिक्षिका कल्पना ने चरितार्थ कर के दिखाई है। चाहे कोई धार्मिक, या देशभक्ति का त्यौहार हो कल्पना अपनी विलक्षण प्रतिभा के दम पर पीपल व बरगद के पत्तों पर देवी-देवताओं व देश के शहीदों की प्रतिमा कटिंग कर अपनी अद्भुत कला का परिचय देती रहती हैं।
 कल्पना कहती है  कि उन्होंने कला स्वतः स्फूर्त सीखी है। उनका इस मामले में न तो कोई गुरु है और न ही उन्होंने कला का कोई डिप्लोमा डिग्री हासिल की है। अभी तक बहुत से पर्वों पर माँ दुर्गा ,भगवान शिव, मदर्स डे पर माता, फादर्स डे राष्ट्रीय पर्वों पर राष्ट्र के प्रति प्रेम दर्शाते स्थल व शहीदों की एवं दशहरे पर्व पर श्रीराम रावण का युध्द मंचन पर वह पत्तों की कटिंग काटकर आकृतियां बनाती रही हैं और अपनी कला का प्रदर्शन करती रही हैं। उन्होंने बताया कि पत्तियों पर कटिंग करके अभी तक उन्होंने सैकड़ों कलाकृतियां बनाई हैं। उन्होंने यह भी बताया कि उन्हें कलाकृतियां बनाकर जो आनंद प्राप्त होता है उसका वह शब्दों में वर्णन नहीं कर सकतीं। उनकी कलाकृतियों की ख्याति दूर-दूर तक है। जो भी उसे एक बार देखता है वह अभिभूत हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *