Gonda News:महिला हॉस्पिटल के सीएमएस डॉ. एपी मिश्रा व डीआरडीए परियोजना निदेशक की कोरोना से इलाज के दौरान निधन

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा। कोरोना महामारी के चलते जिला महिला अस्पताल के सीएमएस व परियोजना निदेशक डीआरडीए की इलाज के दौरान मौत हो गई। अब तक जिले में कोरोना संक्रमण के कारण 128 लोगों की मौत हो चुकी है।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ. एपी मिश्रा

जिला महिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ. एपी मिश्रा का पीजीआई लखनऊ में निधन हो गया है। वह 7 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव हुए थे बताया जा रहा है कि डॉ एपी मिश्रा को कोरोना वैक्सीन की डोज लग चुकी थी।महिला हॉस्पिटल में लगभग ढाई साल से तैनाती के दौरान कई बार उत्कृष्ट कार्यो को लेकर सम्मानित भी हो चुके थे।
डिप्टी सीएमओ डा. मनोज कुमार ने बताया कि जिला महिला अस्पताल में तैनात सीएमएस डा. एपी मिश्र करीब 25 दिन पूर्व कोरोना संक्रमित हो गए थे। उन्हें बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया। सेहत में सुधार न होने पर उन्हें मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। इसके बाद उन्हें पीजीआइ रेफर कर दिया गया। उन्होंने बताया कि पीजीआई में इलाज के दौरान उनकी सेहत सुधरने लगी थी। उन्हें प्लाजमा भी डोनेट कराया गया था। बुधवार को पीजीआइ में इलाज के दौरान डा. एपी मिश्र की मौत हो गई। वह फैजाबाद के रहने वाले थे।

परियोजना निदेशक डीआरडीए सेवाराम चौधरी

वहीं, परियोजना निदेशक डीआरडीए सेवाराम चौधरी पंचायत चुनाव में मतगणना कार्मिकों की तैनाती व प्रशिक्षण का काम देख रहे थे। करीब 20 दिन पूर्व वह भी कोरोना पॉजिटिव हो गए। इसके बाद उन्हें सतीश चंद्र मेमोरियल अस्पताल गोण्डा के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया। बताया जाता है कि इलाज के दौरान उनकी सेहत में सुधार आना शुरू हो गया था। अचानक बुधवार को उनकी तबियत बिगड़ गई। इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। परियोजना निदेशक आंबेडकर नगर के रहने वाले थे। डीएम मार्कण्डेय शाही, सीडीओ शशांक त्रिपाठी ने अफसरों के निधन पर शोक जताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *