Lakhimpur Kheri News:खीरी पहुंचे कमिश्नर, एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का किया निरीक्षण

एन.के.मिश्रा

कमांड सेंटर के सभागार में डीएम-सीडीओ समेत चिकित्सा अधिकारियों के साथ की बैठक

प्रशासन ऐसी रणनीति बनाए, ताकि कोई भी संदिग्ध ना रहे टेस्टिंग से वंचित : नोडल अधिकारी

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी।  जनपद के नोडल अधिकारी मंडलायुक्त लखनऊ मंडल, लखनऊ रंजन कुमार ने अपने भ्रमण कार्यक्रम के दूसरे दिन एकीकृत कोविड- कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण किया। उन्होंने कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में कांटेक्ट ट्रेसिंग, होम आइसोलेशन की निगरानी करने वाली टीमों से उनके कार्य दायित्वों के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने टीमों से उनके कामकाज के विषय में विस्तार से जानकारी हासिल की। होम आइसोलेशन की निगरानी कर रही टीमों द्वारा प्रतिदिन किए जाने वाले कार्यों को अनुरक्षित की जाने वाली पंजिका का भी अवलोकन किया।
इसके उपरांत नोडल अधिकारी ने डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह, एसपी विजय ढुल, सीडीओ अरविंद सिंह की उपस्थिति में चिकित्सा अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी वार उनके कार्य दायित्वों के संबंध में जानकारी हासिल की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने अपने सम्मुख ही चिकित्सा अधिकारियों से कोविड पोर्टल खुलवा कर जनपद की अद्यतन स्थिति देखी। उन्होंने कहा कि कांटेक्ट की ट्रेसिंग में तेजी लाए। केस के डिटेक्ट होते ही उसे आइसोलेट किया जाए।


उन्होंने कोविड चिकित्सालय में उपलब्ध संसाधनों एवं चिकित्सीय सुविधाओं, क्रिटिकल कोविड संक्रमित मरीजों के संबंध में सीएमओ से जानकारी की। उन्होंने कहा कि सरकारी एवं प्राइवेट चिकित्सालयों में आईएलआई एवं सारी के मामलों की अनिवार्य रूप से कोविड-19 की जांच सुनिश्चित कराई जाए। जिले के सभी निजी चिकित्सालयों से प्रतिदिन आईएलआई एवं सारी केस की अद्यतन जानकारी अनुरक्षित कर तदनुसार कार्रवाई अमल में लाई जाए। जनपद में कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना एवं उसकी क्रियाशीलता के विषय में जानकारी हासिल की। स्वास्थ्य कर्मियों को शीघ्र पूर्ण प्रशिक्षित कराया जाए। जिससे उन्हें नवीन एवं अद्यतन जानकारी प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि गुणात्मक उपचार, उपयुक्त सर्विलांस व उपचार में विलंब की रोकथाम से जिंदगियां बचाई जा सकती हैं।सीएमओ ने कोविड के विभिन्न पहलुओ पर पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से अपना प्रस्तुतीकरण दिया। इस दौरान उन्होंने ज़िले के पॉजिटिविटी रेट, प्रभावित आयु वर्ग, ट्रेसिंग के प्रकार एवं उसकी अद्यतन स्थिति सहित अब तक किए गए टेस्टिंग, सारी एवं आई एल आई की टेस्टिंग, साप्ताहिक रिपोर्टेड केसेस, कोविड-19 मृत्यु दर सहित मृत्यु का कारण के विषय में विस्तार से जानकारी दी।डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने कोविड केयर सेंटर जंगसड में एडमिट संक्रमित मरीजों हेतु अब तक क्या-क्या व्यवस्थाएं के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। डीएम ने बताया कि केयर सेंटर में गर्म पानी एवं स्वच्छ पेयजल की समुचित उपलब्धता हेतु पर्याप्त मात्रा में मशीनें लगाई गई हैं, वही आईसीयू में एसी भी लगवाए गए।बैठक में जिला अधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक विजय ढुल, मुख्य विकास अधिकारी अरविंद सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मनोज अग्रवाल सहित एसीएमओ डॉआरपी दीक्षित, डॉ ०बलवीर सिंह सहित चिकित्सा अधिकारी मौजूद रहे।Attachments area

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *