Lakhimpur Kheri News:एकीकृत कोविड-कंट्रोल एंड कमांड सेंटर पहुंचे डीएम, चिकित्साधिकारियो के संग की बैठक

जिला चिकित्सालय व जिला महिला चिकित्सालय में व्यवस्थाएं सुधारने पर हुआ मंथन
डीएम बोले, स्वयं करूंगा व्यवस्थाओं की पड़ताल, चार दिनों में चिकित्सालय में ऑल इज वेल कराएं सभी व्यवस्थाएं
एन.के.मिश्रा
लखीमपुर खीरी । डीएम महेंद्र बहादुर सिंह एकीकृत कोविड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर पहुंचे। जहां उन्होंने कंट्रोल एंड कमांड सेंटर सभागार मे जिला चिकित्सालय एवं जिला महिला चिकित्सालय के चिकित्सकों के संग बैठक की। बैठक के आरंभ में डीएम ने चिकित्सकों का परिचय प्राप्त किया।
डीएम ने जिला चिकित्सालय के प्रभारी सीएमएस डॉ एसके मिश्रा को चिकित्सालय में साफ सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि चिकित्सालय के बाथरूम काफी गंदे है। जिसपर श्री मिश्रा ने कई बाथरूम चोक होने की बात कही। डीएम ने कहा कि नपाप से मदद लेकर बाथरूम को ठीक कराया जाए। उन्होंने सीएमओ डॉ शैलेंद्र भटनागर से कोविड की टेस्टिंग व वैक्सीनेशन की प्रोग्रेस जानी, नियत लक्ष्य को पूरा करने के निर्देश दिए। वही बिजुआ व पलिया में वैक्सीनेशन कम होने का कारण जाना। उन्होंने प्रभारी सीएमएस से एनआरसी सेंटर की क्रियाशीलता व क्षमता जानी। डीएम के पूछने पर सीएमएस ने बताया कि 30 सफाई कर्मचारी कार्यरत हैं। डीएम ने निर्देश दिए कि 04 दिन के भीतर चिकित्सालय की सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया जाए। उसके बाद वह दोनों चिकित्सालय में व्यवस्थाओं की पड़ताल स्वयं करेंगे।
डीएम ने कहा कि चिकित्सक चिकित्सालय को बेहतर बनाने हेतु प्रयास करें। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन बेडशीट बदली जाए।प्रभारी सीएमएस ने डीएम को अवगत कराया कि चिकित्सालय में कार्यरत प्रधान सहायक ज्वाइन करने के बाद से मेडिकल अवकाश पर है, जिससे सभी कार्य प्रभावित है। डीएम ने पूछने पर सीएमएस ने बताया कि चिकित्सालय में 03 पद स्वीकृत हैं, जिनमें दो रिक्त हैं। उन्होंने निर्देश दिया कि उनके स्तर से रिक्त पदों पर तैनाती हेतु उनके स्तर से शासन को पत्र प्रेषित किया जाए।
डीएम ने एमओआईसी के संग की बैठक, बनाई रणनीति
टीम भावना से काम करके स्वास्थ्य संकेतको में करें बेहतरीन प्रदर्शन : डीएम
डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने सीएमओ डॉ शैलेंद्र भटनागर के साथ उनके कार्यालय के सभागार में सभी एमओआईसी के साथ जरूरी बैठक की। बैठक की अध्यक्षता करते हुए निर्देश दिए कि सभी एमओआईसी को वैक्सीनेशन की प्रोग्रेस बढ़ाने हेतु गांव-गांव तक पहुंचना होगा। उन्होंने एमओवाईसी से टेस्टिंग हेतु किए जाने वाले विशेष प्रयास जाने। सभी चिकित्सा अधिकारी टीम भावना से काम करते हुए तय लक्ष्यों पर फोकस करते हुए उन्हें समय से पूरा करें। उन्होंने स्टेट एवरेज से कम वैक्सीनेशन होने पर ईसानगर, कुंभी, फूलबेहड़, बाकेगंज, मितौली, निघासन, पसगवा, मोहम्मदी, रमियाबेहड़, बिजुआ एवं पलिया के एमओआईसी से कारण जाना एवं इसमें अपेक्षित प्रगति करने के निर्देश दिए। टीम भावना से काम करते हुए सभी स्वास्थ्य संकेतको में बेहतर प्रदर्शन करें।
बैठक में उन्होंने ग्रामीण स्वच्छता स्वास्थ्य एवं पोषण समिति और रोगी कल्याण समिति की क्रियाशीलता सहित उपलब्ध धनराशि का समुचित उपयोग करने के निर्देश दिए। उन्होंने बनाए गए गोल्डन कार्ड एवं उपचारित मरीजों की संख्या जानी। वही आशाओं के समय बद्ध भुगतान पर जोर दिया। मैम व सैम बच्चों के परिवारीजनों को प्रेरित-प्रोत्साहित करके उनके बच्चों को एनआरसी में भर्ती कराकर सुपोषित बनाएं। सीएचसी में आवश्यक दवाओं की उपलब्धता के साथ ही मरीजों से शालीनता से व्यवहार किया जाए। एमओआईसी अपने क्षेत्र की अवैध पैथोलॉजी को चिन्हित करते हुए कार्यवाही करें। बेडशीट साफ-सुथरी होने के साथ-साथ प्रतिदिन बदली जाए। चिकित्सालय में प्रतिदिन खाने की गुणवत्ता देखी जाए, ऐसा खाना हो कि आप भी खा सकें। चिकित्सालय परिसर को साफ सुथरा रखा जाए। बैठक में सीएमओ डॉ शैलेंद्र भटनागर, एसीएमओ अश्विनी, डॉ बीसी पंत, डॉ आरपी दीक्षित, डॉ अनिल गुप्ता सहित सभी एमओआईसी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *