Gonda News:सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में बढ़ाई जा रही है बेडों की संख्या, गोनार्द हास्पिटल में शीघ्र लगेगा आक्सीजन प्लान्ट

कोविड नियंत्रण को लेकर डीएम मार्कण्डेय शाही के अभिनव प्रयास जारी, होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से आईजी,डीएम व एसपी सीधे करेंगे बात

कोविड नियंत्रण को लेकर डीएम ने बढ़ाई टेलीफोन नम्बरों की संख्या

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा। कोविड नियंत्रण को लेकर डीएम मार्कण्डेय शाही द्वारा जहां एक ओर कोविड हास्पिटल में भर्ती मरीजों व उनके तीमारदारों से रोजाना वीडियोे काॅल के माध्यम से वार्ता करके उनका हाल-चाल लिया जा रहा है और उन्हें दी जा रही सुविधाओं के बारे में जानकारी ली जा रही है, तो वहीं दूसरी ओर कोरोना से लड़ाई को और अधिक प्रभावी करने के लिए नित नए प्रयोग व प्रयास किए जा रहे हैं।

जिलाधिकारी ने बताया है कि अब होम आइसोलेषन मे रह रहे कोविड मरीजों से रोजाना आईजी देवीपाटन डा0 राकेष सिंह व पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्रा के साथ ही वे स्वयं फोन पर बात करेगें तथा उनका स्वास्थ्य कैसा है, जानने के साथ ही उनका हौसला भी बढ़ाने का काम प्रतिदिन किया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि कन्ट्रोल रूम से कान्ट्रैक्ट ट्रैसिंग व होम आइसोलेषन में रह रहे कोविड पाजिटिव मरीजों का डाटा कलेक्ट कराकर उन्हें फोन कराने का कार्य जारी है। इसके अलावा शीघ्र ही सीएमओ ऑफिस, प्रमुख अधीक्षक कार्यालय जिला अस्पताल एवं कलेक्ट्रेट स्थित कोविड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर में अतिरिक्त टेलीफोन लगवाए जा रहे हैं तथा सभी नए नम्बर शनिवार सुबह तक चालू हो जाएगें।
कोविड मरीजों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के साथ ही बिना कोविड के लक्षण वाले ऐसे मरीज जिनका ऑक्सीजन लेवल कम हो जा रहा है, को भी बचाने के लिए ऑक्सीजन की उपलब्धता के साथ जिला अस्पताल, एससीपीएम मेडिकल कॉलेज में सौ बेड, गोनार्द हॉस्प्टिल में 100 बेड, आरएन पांडेय हॉस्पिटल में 20 बेड सहित अवध हॉस्पिटल व नूर हॉस्पिटल में बेड की व्यवस्था कराई जा रही है। जिलाधिकारी ने बताया कि जनसामान्य की सुविधा के लिए प्रत्येक अस्पताल में उपलब्ध बेड की संख्या आदि का बाकायदा चार्ट अस्पताल के बाहर लगाया जाएगा तथा अस्पताल के जिम्मेदार व्यक्ति का नाम व मोबाइल नम्बर भी चार्ट पर डिस्प्ले किया जाएगा।

जिलाधिकारी ने यह भी बताया कि सांसद कैसरगंज द्वारा गोनार्द हास्पिटल में लगभग डेढ़ करोड़ रूपए की लागत से नया आक्सीजन प्लान्ट लगवाया जा रहा है जिससे गोनार्द हास्पिटल के अतिरिक्त जिला अस्पताल व अन्य प्राइवेट अस्पतालों को आवष्यकतानुसार आक्सीजन मिल सकेगी। उन्होंने बताया कि देर रात गोनार्द अस्पताल में 20 मरीज भर्ती भी करा दिए गए हैं जिनका इलाज चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *