Lakhimpur Kheri News:जिले भर में मनाया गया कृषि सम्मान दिवस, 32 प्रगतिशील किसानों का हुआ सम्मान

जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम का जनप्रतिनिधियों ने किया शुभारंभ

एन.के.मिश्रा
लखीमपुर खीरी । भूतपूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के जन्म जयंती को पूरे जिले में किसान सम्मान दिवस के रूप में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। जिला मुख्यालय के छाउछ स्थित कृषि भवन में आयोजित किसान सम्मान दिवस कार्यक्रम का खीरी सांसद अजय मिश्र टेनी, विधायक सदर योगेश वर्मा, विधायक श्रीनगर मंजू त्यागी, सांसद धौरहरा प्रतिनिधि सुमित तिवारी ने डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह की मौजूदगी में संयुक्त रूप से फीता काटकर किया।जनप्रतिनिधियों ने सर्वप्रथम कृषि भवन परिसर में लगाई गई कृषि प्रदर्शनी का अवलोकन कर संबंधित विभागों के अधिकारियों से विभागीय एवं किसान कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में जानकारी हासिल की। इसके उपरांत कृषि भवन सभागार में आयोजित किसान सम्मान कार्यक्रम का भूतपूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया। कार्यक्रम में उप कृषि निदेशक डॉ योगेश प्रताप सिंह ने किसान सम्मान दिवस की प्रासंगिकता एवं आवश्यकता पर विस्तार से प्रकाश डाला।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि सांसद अजय मिश्र टेनी ने कहा कि चौधरी चरण सिंह का पूरा जीवन किसानों को समर्पित रहा। उनकी पहचान पूरे हिंदुस्तान में एक सर्वमान्य नेता के रूप में आज भी कायम है। श्री चौधरी ने पूरे जीवन किसानों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन आए इसके लिए चिंता की। उन्होंने कहा कि पूरे भारतवर्ष में 50 से 60 फ़ीसदी लोग कृषि क्षेत्र से प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हुए हैं। किसान देश का अन्नदाता है, किसान कल्याण के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं। सरकार किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए विभिन्न स्तरों पर अनेकों प्रयास कर रही है। सरकार मृदा उर्वरता की जांच, जल एवं बिजली की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराने के साथ ही किसान सम्मान निधि सहित अनेक किसानपरक योजनाएं किसानों के कल्याण के लिए चला रही है। सरकार ने कृषि क्षेत्र में आधारभूत ढांचा बनाने के साथ-साथ गत 06 वर्षों में भारत सरकार ने कृषि बजट को 6 गुना किया है। उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए कृषि बिल की आवश्यकता एवं जरूरत के संबंध में बड़ी बारीकी से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस बिल के माध्यम से किसानों के लिए और रास्ते खुलेंगे। उपज के विपणन के लिए नए बाजार मिलेंगे। किसान अपनी उपज का स्वयं व्यवसाय कर सकेंगे। किसानों को संरक्षित करने के लिए केंद्र सरकार ने यह कानून बनाया। किसान रेल व किसान उड़ान जैसी व्यवस्था सरकार ने दी है। कृषि कानून पूरी तरह से किसानों के हक में है।
डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि सरकार किसानों के कल्याण के लिए जन कल्याणकारी एवं किसानहितार्थ योजनाएं चला रही है। किसानों की लागत को घटाने एवं उनकी आय बढ़ाने को लेकर सरकार प्रतिबद्ध है। आज सम्मानित होने वाले सभी प्रगतिशील किसानों को शुभकामनाएं देकर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि आज सम्मानित होने वाले किसानों से प्रेरणा लेकर अन्य किसान भी अपनी उपज को बढ़ाकर उनके कदम से कदम मिलाए।जिला कृषि अधिकारी सत्येंद्र प्रताप सिंह ने कार्यक्रम का सफल संचालन किया। श्री सिंह ने मौके पर मौजूद किसानों को कृषि उपज बढ़ाने के संबंध में टिप्स दिए। उन्होंने कहा कि किसान किसी भी कार्य दिवस में कार्यालय आकर अपनी उपज को बढ़ाने के संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। जिससे ना केवल उनकी उपज में वृद्धि होगी बल्कि सरकार के सपना भी साकार होगा।इस अवसर पर उप कृषि निदेशक डॉ योगेश प्रताप सिंह जिला कृषि अधिकारी सत्येंद्र प्रताप सिंह जिला कृषि रक्षा अधिकारी डॉ  आई के गौतम, जिला पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ टी के तिवारी, जिला गन्ना अधिकारी बी के पटेल, जिला उद्यान अधिकारी दिग्विजय कुमार भार्गव सहित कृषि वैज्ञानिकों एवं कृषि जानकारों ने किसानों को विस्तार से उपज बढ़ाए जाने की टिप्स दी। कार्यक्रम के अंत में डीडी कृषि योगेश प्रताप सिंह ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।                         ◆◆◆◆◆◆*जब ट्रैक्टर पर सवार हुए सांसद-विधायक*
किसान सम्मान दिवस के मौके पर लगाई गई कृषि प्रदर्शनी में खड़े ट्रैक्टर की ड्राइवर सीट पर बैठकर खीरी सांसद अजय मिश्र टेनी ने ट्रैक्टर स्टार्ट कर किसानों का उत्साह वर्धन किया। इस दौरान विधायक सदर योगेश वर्मा भी ट्रैक्टर पर सवार रहे। इस मौके पर मुख्य रूप से विधायक श्री नगर श्रीमती मंजू त्यागी एवं डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह मौजूद रहे।                    ◆◆◆◆◆◆◆*जनप्रतिनिधियों-अधिकारियों ने किया कृषि प्रदर्शनी का अवलोकन*कृषि प्रदर्शनी रही आकर्षण का केंद्रकिसान सम्मान दिवस के मौके पर सांसद खीरी अजय मिश्र टेनी ने विधायक सदर योगेश वर्मा, विधायक श्री नगर मंजू त्यागी व डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह के साथ कृषि, गन्ना, पशुपालन, उद्यान, रेशम सहित अन्य विभागों के लगाए गए स्टालों का अवलोकन किया एवं संबंधित विभागों में चलाई जा रही सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की। कृषि भवन साउथ में लगाई गई यह कृषि प्रदर्शनी कृषकों के लिए आकर्षण का केंद्र रही। प्रदर्शनी अवलोकन के दौरान जिला उद्यान अधिकारी दिग्विजय कुमार भार्गव ने सब्जी एवं फलों की देसी उत्पादन की प्रजातियां एवं कम लागत में अधिक उत्पादन करने वाले कृषकों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। गन्ना विभाग की प्रदर्शनी के अवलोकन के दौरान जिला गन्ना अधिकारी बीके पटेल ने गन्ने की विभिन्न प्रजातियां एवं उनमें अपार संभावनाओं के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। पशुपालन विभाग के स्टाल के अवलोकन के दौरान सीवीओ टीके तिवारी ने पशुपालन के क्षेत्र में पशुपालकों द्वारा किए गए उत्कृष्ट प्रदर्शन के संबंध में जानकारी दी। ◆◆◆◆◆◆●
*प्रगतिशील किसानों का हुआ सम्मान, जनप्रतिनिधियों ने प्रदान किया प्रमाण पत्र**जनप्रतिनिधियों ने प्रगतिशील किसानों का किया माल्यार्पण, भेंट की शाल*
कृषि भवन छाउछ में आयोजित किसान सम्मान दिवस कार्यक्रम में जिले के कृषि, उद्यान, गन्ना एवं पशुपालन के क्षेत्र में 32 प्रगतिशील किसानों को अधिक उत्पादन एवं क्रॉप कटिंग परिणाम के आधार पर उस बेहतर परफॉर्मेंस दिखाने वाले कृषकों को सम्मानित किया गया। *कृषि के क्षेत्र में* गेहूं की फसल उत्पादन में प्रथम एवं द्वितीय रविंद्र कुमार वर्मा एवं प्रदीप कुमार, मसूर उत्पादन में प्रथम एवं द्वितीय घनश्याम सिंह राठौर व राजकुमार सिंह, धान उत्पादन में प्रथम एवं द्वितीय शेर सिंह राठौर व कौशल किशोर उर्द उत्पादन में प्रथम व द्वितीय मगत राम व बांकेलाल को सम्मानित किया गया। *उद्यान के क्षेत्र में* केले की खेती में प्रथम व द्वितीय मोहम्मद हयात खान एवं धर्मपाल मौर्य,  पत्ता गोभी की खेती में प्रथम व द्वितीय विपिन कुमार व अरुण कुमार, मशरूम की खेती में प्रथम व द्वितीय जितेंद्र शर्मा, अनुराग अग्रवाल व टमाटर की खेती में प्रथम व द्वितीय प्रमोद कुमार व रामचंद्र  को सम्मानित किया गया। *गन्ने की विभिन्न प्रजातियों में* प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले नरेंद्र सिंह, गुरतेज सिंह, गुरचरण सिंह, तरसेम सिंह, कुलविंदर सिंह, अमरजीत सिंह,राजाराम व मिश्रीलाल को सम्मानित किया गया। *पशुपालन के क्षेत्र में* भैंस व गाय डेरी प्रतिदिन दुग्ध उत्पादन में गुरविंदर सिंह एवं परमजीत सिंह ने प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त किया। मुर्रा भैंस के दुग्ध दुग्ध उत्पादन में अभिनव कुमार व राकेश कुमार को प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त किया। संकर गाय के दुग्ध उत्पादन में प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले अजीत कुमार व सर्वेश कुमार सहित बकरी बरबरी में मांस उत्पादन के क्षेत्र में अनिल कुमार व सब्बन ने प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त किया। सभी सेक्टर में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले प्रगतिशील किसानों को सात हजार एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रगतिशील किसानों को 5 हजार का स्वीकृति पत्र प्रदान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *